मेहनगर, आजमगढ़। नगर पंचायत मेहनगर के अन्तर्गत लखरांव तालाब के निकट मेहनगर आजमगढ़ मार्ग पर बना नाला तीन माह में ही धराशायी हो गया। बताया जा रहा है कि लगभग 100 मीटर की दूरी तक बना यह नाला 3 माह पूर्व बनाया गया था। 15वें वित्त आयोग के मद से इसके निर्माण में 15.71 रूपए खर्च हुआ था। इस नाले का निर्माण लखरांव तालाब के पूर्वी छोर के जल निकासी के लिए बनाया गया था। एक ही बरसात में नाले की दिवाल के धराशायी होने से नागरिक आक्रोशित हैं। बसपा नेता डा० भरत गौतम ने कहा कि नगर पंचायत क्षेत्र में मानदण्डों के अनुरूप कार्य नहीं हो रहा है। एक माह पूर्व भी इस नाले की दिवाल गिर गई थी। जनता के धन का दुरुपयोग किया जा रहा है। नगर पंचायत क्षेत्र में करोड़ों रूपये का कार्य मानदण्डों को दरकिनार करते हुए कराया गया है। इसकी जांच होनी चाहिए। व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष कमलेश कुमार मधुकर ने कहा कि नगर में जन जागरूकता की कमी के कारण मनमानी हो रही है। नगर में हुए समस्त निर्माण कार्य की जांच होनी चाहिए। भाजपा नेता महेंद्र मौर्य ने कहा कि इस प्रकरण पर जिलाधिकारी महोदय से वार्ता की जाएगी। भाजपा सरकार में जन धन का दुरुपयोग बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।