आजमगढ़। सचल खाद्य जांच प्रयोगशाला द्वारा बुधवार को सर्वप्रथम रानी की सराय बाजार में कुल 15 मिठाईयो व अन्य खाद्य पदार्थों का नमूना जांचा गया, जिसमें कलाकंद में स्टार्च तथा लड्डू व सोनपापड़ी कृत्रिम रंग से रंगी हुई पाई गई। तत्तपश्चात उक्त जांच प्रयोगशाला संजरपुर मार्केट पहुंच कर वहां के खाद्य कारोबारकर्ताओं के खाद्य पदार्थों की जांच की तथा लगभग अधिकतर खाद्य पदार्थ मानक के अनुरूप पाये गये। इस प्रकार आज जांच में कुल 59 नमूनें जांचे गए, जिसमें 21 नमूनें मानक के विपरीत पाए गए। जिन खाद्य कारोबारकर्ताओं के खाद्य नमूनें फेल पाए गए अथवा उनमें कोई कमी पायी गयी, उसको सुधारने के लिए उनको जागरूक भी किया। सचल खाद्य जांच प्रयोगशाला में उपस्थित मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी दीपक कुमार श्रीवास्तव ने खाद्य जांच की विधि आमजनमानस को बताते हुए उन्हें खाद्य सुरक्षा के प्राविधानों के बारे में जागरूक किया। उन्होंने बताया कि सचल खाद्य जांच दल अगले 3 दिनों के लिए जनपद के विभिन्न तहसील क्षेत्रों में भ्रमण कर खाद्य कारोबारकताओं एवं आम जनमानस के खाद्य पादार्थो का निःशुल्क जाँच कर तत्काल परिणाम उपलब्ध करायेगी। इसी क्रम गुरूवार को मेंहनगर तथा लालगंज तहसील के बाजारों का भ्रमण कर खाद्य नमूनों का निःशुल्क जांच करेगी। इस जांच अभियान में कुल 112 खाद्य कारोबारकर्ताओं एवं आम जनमानस को जागरूक किया गया। इससे पूर्व उक्त सचल खाद्य जांच प्रयोगशाला को जनपद में अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) आजमगढ़ द्वारा हरी झण्डी दिखाकर कलेक्ट्रेट से रवाना किया गया। सचल खाद्य जांच दल के साथ मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी दीपक कुमार श्रीवास्तव, खाद्य सुरक्षा अधिकारी राकेश कुमार शुक्ला, राम चन्द्र यादव, कीर्ति आनंद एवं अंकित कुमार सिंह उपस्थित रहे।