अतरौलिया, आजमगढ़। 100 शैय्या संयुक्त जिला चिकित्सालय के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ केके झा के सेवानिवृत्त होने पर विदाई समारोह का आयोजन किया गया। जिसके मुख्य अतिथि आजमगढ़ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आईएम तिवारी तथा विशिष्ट अतिथि पूर्व मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर एके मिश्रा रहे। विदाई समारोह में मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा डॉक्टर केके झा को स्मृति चिन्ह और अंगवस्त्रम भेंट किया गया। विदाई समारोह में नम आंखों से डॉक्टर केके झा का विदाई करते हुए डॉक्टर एके मिश्रा ने कहा कि डॉक्टर केके झा के साथ मिलकर हमने इस हॉस्पिटल को सिंचित किया हैं। आज हॉस्पिटल अपनी बुलंदी पर पहुंचा है इसमें कहीं ना कहीं डॉक्टर केके झा की मेहनत रंग लाई, अपनी जिम्मेदारियों का अच्छे ढंग से निर्वहन किये। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर आईएन तिवारी ने कहा कि डॉक्टर के के झा जब से स्वास्थ्य विभाग में अपनी सेवा देना शुरू किए हैं और आज सेवा समाप्ति तक पूरी तरह निर्विवाद रहे हैं। पूरे सर्विस के दौरान किसी भी तरह का इनका कहीं किसी प्रकार का विवादों से नाता नहीं रहा। अपनी विदाई के अवसर पर डॉक्टर केके झा ने कहा कि अतरौलिया का यह 100 शैय्या संयुक्त जिला चिकित्सालय मेरे लिए एक परिवार के समान था आज हमें वह कष्ट हो रहा है जो एक परिवार से बिछड़ते समय होता है। इस हॉस्पिटल में हमारे समकक्ष, हमसे अनुज तथा कुछ हमसे वरिष्ठ लोग भी थे जिनके सहयोग से हमने इस हॉस्पिटल को चलाया है। इस मौके पर अस्पताल की स्टाफ नर्सों द्वारा डॉक्टर केके झा को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर मुख्य रूप से डॉ संजय कुमार, डॉ पीके राय, डॉ विनय यादव, डॉ मुकेश गुप्ता, डॉ ऐके राय, डॉ प्रदीप कुमार, डॉ अमरेंद्र, संतोष वर्मा, सुभम पांडेय, विवेकानंद चतुर्वेदी, हेमंत सिंह, चन्द्रजीत तिवारी, सुनील पांडेय, संजय मिश्रा, पंकज पांडेय, डॉ हमीर सिंह, डॉ अली हसन, सहित समस्त स्टाफ के लोग थे।