रिपोर्ट, पंकज पांडे 
 फरिहा आजमगढ़ । निजामाबाद थाना क्षेत्र के फरिहा चौकी अंतर्गत असीलपुर बाजार में महावीर सोनकर पुत्र राम सरेख सोनकर के घर से मंगलवार को दोपहर में दिनदहाड़े ताला तोड़कर बेखौफ घूम रहे चोरों ने ढाई लाख रुपए के गहने सहित नकदी और अन्य कीमती सामान जिसकी अनुमानित कीमत लगभग ₹500000 बताई जा रही है चोरों ने बकायदा हाथ साफ करते हुए आसानी से निकल गए । जानकारी के मुताबिक महावीर सोनकर का पूरा परिवार सावन माह के तीसरे मंगलवार को सुबह मां विंध्यवासिनी का दर्शन करने के लिए विंध्याचल गए हुए थे, उनका लड़का रवि सोनकर मकान में ताला बंद करके स्कूल चला गया था, मौका पाकर चोरों ने दिन में घर का ताला तोड़कर अंदर घुसे और बेखौफ होकर पूरे घर को छान डाला, और घर में रखें नगदी जेवरात और अन्य कीमती सामान जिसकी लगभग अनुमानित कीमत ₹500000 रुपए पर साफ करके आसानी से निकल गए, घटना की जानकारी पीड़ित परिवार को तब हुई जब रवि सोनकर स्कूल से पढ़कर घर आया ताला टूटा देख भौचक्का रह गया, और इसकी जानकारी अपने परिवार जनों को दी, दोपहर को सूचना होने के बावजूद भी निजामाबाद पुलिस 3 घंटे बाद मौके पर पहुंचकर छानबीन करके बैरंग वापस चली गई, जबकि 1 दिन पूर्व असीलपुर बाजार में ही होम्योपैथिक के डॉक्टर राम मिलन यादव पुत्र बलराम यादव निवासी ग्राम बाबूराम का पूरा की बाइक चोरों ने हाथ साफ किया था, अभी मामला शांत नहीं हुआ कि तब तक दूसरे मामले को निजामाबाद पुलिस के सामने चुनौती दे डाली, अब सवाल खड़ा होता है कि निजामाबाद पुलिस जो चैन की नींद सो रही है, और चोर अपना काम दिन में ही बेखौफ होकर कर रहे हैं । क्षेत्र में जोरों से चर्चा है और आम लोग डर के साए में अपना जीवन यापन कर रहे हैं । इस संबंध में सीओ सदर सौम्या सिंह से बात करने पर उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी नहीं है और घटना के संबंध में मैं कुछ भी नहीं बता पाऊंगी ।