रिपोर्ट, वरुण सिंह 
आजमगढ़ । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को आईटीआई के मैदान में एक जनसभा को संबोधित करते हुए 143 करोड़ रुपए रिटर्न गिफ्ट देने के साथ ही, मुख्यमंत्री ने जिले में पैरामेडिकल कॉलेज और एक शोध पीठ की स्थापना के साथ ही साथ एक बड़ा रोजगार मेला लगाए जाने की घोषणा की, जनता को संबोधित करते हुए  कहा कि अब आजमगढ़ को विकास के पंख लग चुके हैं, विश्वविद्यालय के निर्माण में भी तेजी आएगी, मुख्यमंत्री ने इस दौरान राज्य सरकार के कुछ योजनाओं के लाभार्थियों को मौके पर प्रमाण पत्र भी दिया, लगभग 20 मिनट के अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने बार-बार आजमगढ़ समेत पूर्वांचल के विकास पर चर्चा की, सीएम ने इस दौरान 31 परियोजनाओं का लोकार्पण और 19 परियोजनाओं का शिलान्यास किया, मुख्यमत्री जिले को एक दक्ष चालक बनाने वाले ट्रेनिंग सेंटर का लोकार्पण भी किया, इसके अलावा सगड़ी तहसील के देवारा के पंद्रह गांव को घाघरा नदी के कहर से बचाने वाले एक बांध का लोकार्पण भी किया, ये बांध ग्रामीणों को बाढ़ से हमेशा के लिए राहत देंगे, इन गांव में करीब 50 हजार से अधिक की आबादी है, इस दौरान प्रभारी मंत्री भूपेंद्र चौधरी, दयाशंकर मिश्र दयालू, मंत्री दयाशंकर सिंह, सुरेश राही, एमएलसी यशवंत सिंह, विजय बहादुर पाठक, विक्रांत सिंह रीशू, सहजानन्द राय, ध्रुव कुमार सिंह, ऋषिकांत राय, पूर्व विधायक सगड़ी वंदना सिंह, ब्लाक प्रमुख अजमतगढ़ मनीष मिश्रा, ब्लाक प्रमुख हरैया संतोष सिंह, ब्लाक प्रमुख बिलरियागंज रमेश यादव सहित तमाम जनपद के पदाधिकारी मौजूद रहे ।