आजमगढ़। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) जिलाध्यक्ष रामप्यारे यादव के नेतृत्व में सोमवार को एक प्रतिनिधिमण्डल ने पुलिस अधीक्षक से मिलकर एक शिकायती पत्र सौंपा। शिकायती पत्र में प्रसपा प्रतिनिधिमण्डल ने आरोप लगाया कि सरायमीर थाना के नायब दरोगा और सिपाही ने 27 अगस्त की रात करीब 2 बजे प्रसपा के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष लतीफ अहमद के साथ दुर्व्यवहार किया और अकारण उन्हें मारा पीटा भी। जबकि श्री अहमद सीने में दर्द होने के कारण अपने लड़के मोहम्मद हफीज तथा गांव के मोहम्मद अजमल पुत्र बदरू सलाम, मोहम्मद पुत्र असफर के साथ दो मोटरसायकिल से सबा करीम हास्पिटल सरायमीर जा रहे थे। उन्होंने अपनी बीमारी के बावत पुलिसकर्मियों को अवगत भी कराया था। इसके बावजूद उक्त पुलिसकर्मियों द्वारा लतीफ अहमद के दुर्व्यवहार और मारपीट की गयी तथा उनके पास रखे दवा के 7000 रूपये कांस्टेबल द्वारा छीन लिये गये। इतना ही नहीं पुलिसकर्मियों द्वारा धमकी भी दी गयी कि अगर इस बावत कहीं शिकायत किये तो जान से मार दिये जाओगे। प्रसपा प्रतिनिधिमण्डल ने पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंप न्याय की गुहार लगाई है और उक्त पुलिसकर्मियों के खिलाफ दण्डात्मक कार्रवाई की मांग की है। प्रसपा जिलाध्यक्ष रामप्यारे यादव ने कहा कि अगर न्याय नहीं मिला तो प्रसपा आन्दोलन के लिए बाध्य होगी। इस दौरान जिलाध्यक्ष रामप्यारे यादव, सदर विधानसभा अध्यक्ष चन्द्रकेश यादव, विधानसभा अतरौलिया अध्यक्ष सीताराम यादव, राष्ट्रीय सचिव अधिवक्ता सभा नायब यादव, सुभाष जैसवारा, नीशा यादव, लालमती चौहान आदि लोग उपस्थित रहे।