रिपोर्ट, राजेश सिंह 
(अतरौलिया) आजमगढ़ । स्थानीय नगर पंचायत कस्बा निवासी शमीम अहमद पुत्र औरंगजेब ने  बताया कि 2016 में मैंने एक जमीन मकान समेत खरीदा था । जमीन में कुछ विवाद होने की वजह से उप जिलाधिकारी बुढ़नपुर को प्रार्थना पत्र दिया गया  था, जिसमें तहसील दार ने नायब तहसीलदार व लेखपाल के प्रेषित रिपोर्ट के आधार पर 29/6/ 2022 के आदेश में प्रार्थी के निर्माण कार्य में बाधा ना उत्पन्न होने का आदेश पारित किया था। फिर भी विपक्षी द्वारा बार-बार अवरोध उत्पन्न किया जा रहा था । शनिवार समाधान दिवस पर प्रार्थी द्वारा प्रार्थना पत्र दिया गया, जिसमें मौजूदा प्रशासनिक अधिकारियों ने निर्माण कार्य करने की अनुमति दे दी। आज रविवार सुबह जब प्रार्थी समीम द्वारा उसी जमीन पर निर्माण शुरू किया गया तो विपक्षी हेमंत पुत्र देवी धमकी देने लगा और अपने दर्जनों साथियों को बुला लिया। निर्माण कार्य शुरू होते ही विपक्षी जुट कर प्रार्थी के भाई अब्दुल रहीम व भतीजा आरिफ को मारने पीटने लगे। जब वह जान बचाकर अपने घर में भागा तो विपक्षी वहां भी पहुंच गए और उसे मारने पीटने लगे। पीड़ित पक्ष का आरोप है कि 2 फीट की दीवार गिरा दी गई थी जिसका पुनः निर्माण कार्य कराया जा रहा था ,इतने में विपक्षी हमला कर दिए जिसका वीडियो फुटेज में मौजूद है। पीड़ित ने अतरौलिया थाने में तहरीर देकर नामजद एफ आई आर दर्ज कराया, सूचना पर मौके पर पुलिस पहुंच कर छानबीन में जुटी ।घटना के संबंध में प्रशिक्षु पुलिस उपाधीक्षक गौरव शर्मा ने बताया कि मारपीट का मामला सामने आया है जिसमें एक पक्ष चोटिल हुआ है दूसरे पक्ष के 18 लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस इस मामले में आगे की कार्यवाही कर रही है।