माहुल, आजमगढ़। स्थानीय नगर पंचायत में कचरा निस्तारण हेतु निर्माणाधीन डंपिंग ग्राउंड की दीवाल एक भी बरसात नही झेल पाई। गुरुवार रात में वह धराशाई हो गई। शुक्रवार सुबह जैसे ही इसकी सूचना नगर वासियों को हुई गिरी दीवाल देख इसकी सूचना जिलाधिकारी आजमगढ़ से लेकर मुख्यमंत्री तक ट्वीट कर दिया। नगर पंचायत माहुल के अंबारी रोड पर काली मठ के पास करीब 35 लाख रुपए के बजट में नगर पंचायत द्वारा ठेकेदार के माध्यम से इसका निर्माण कार्य शुरू कराया गया। कार्य शुरू होने के उपरांत ही भाजपा जिला मंत्री लालगंज दिलीप सिंह व सुजीत जायसवाल आंसू सहित तमाम लोगो ने निर्माण कार्य में घटिया सामग्री के उपयोग व मानकों की अनदेखी की शिकायत जिले के उच्चाधिकारियों से किया था पर अधिकारियों द्वारा इस शिकायत पर ध्यान नहीं दिया गया और ठेकेदार द्वारा करीब 80 प्रतिषत निर्माण कार्य पूरा भी कर लिया गया। गुरुवार रात में इस डंपिंग ग्राउंड की 18 इंच मोटी और लगभग 100 फीट लंबी व 10 फीट ऊंची उत्तरी और पूर्वी दीवार गिर गई। यही नहीं इसके प्रवेश द्वार की दीवार भी हल्की वर्षा में ही धाराशाई हो गई। जिससे इसके निर्माण पर सवालिया निशान उत्पन्न हो गया। शुक्रवार सुबह ही लोग वहा पहुंच गए और गिरी दीवार का फोटो निकाल कर सोशल मीडिया पर प्रेषित करना शुरू कर दिया। भाजपा जिला मंत्री दिलीप सिंह ने जिलाधिकारी को ट्वीट कर निर्माण कार्य में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कार्यवाही की मांग किया।