आजमगढ़। आचार्य चंद्रबली पांडेय स्मृति समिति के तत्वावधान में हिंदी सप्ताह का आयोजन पंडित अमरनाथ तिवारी के राहुल नगर स्थित आवास पर संपन्न हुआ। जिसकी अध्यक्षता जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन जयप्रकाश पांडेय ने की। उक्त अवसर पर पंडित अमरनाथ तिवारी का सारस्वत सम्मान करते हुए प्रख्यात साहित्यकार एवं समारोह के मुख्य अतिथि प्रो. प्रभुनाथ सिंह मयंक ने कहा कि आचार्य चंद्रबली पांडेय सूफी साहित्य, संस्कृत साहित्य, तथा अरबी, फारसी और अंग्रेजी साहित्य के प्रख्यात विद्वान आलोचक थे। पंडित अमरनाथ तिवारी आजमगढ़ की यशस्वी साहित्य परंपरा के रत्नमाला के सुमेरु हैं। समारोह के आयोजक, संचालक एवं आचार्य चंद्रबली पांडेय स्मृति समिति के महामंत्री प्रभुनारायण पांडेय प्रेमी ने कहा कि आचार्य चंद्रबली पांडेय सूफी फकीर व बहुमुखी प्रतिभा के साहित्यकार थे, उन्होंने राष्ट्रभाषा हिंदी के गौरव की स्थापना के लिए साहित्य के महायोद्धा के रूप में जीवन पर्यंत संघर्ष किया। अध्यक्षीय संबोधन में जयप्रकाश पांडेय ने कहा कि यह आजमगढ़ का सौभाग्य और गौरव है कि पंडित अमरनाथ तिवारी जैसे मनीषी, साहित्यकार, पत्रकार, शिक्षाविद हमारी पीढ़ी के लिए निरंतर चेतना जागरण का प्रेरक कार्य कर रहे है। उक्त अवसर पर साहित्यकार, आइडियल जर्नलिस्ट एसोसिएशन के राष्ट्रीय महासचिव साहित्यकार संजय कुमार पांडे, मनोज कुमार पांडेय, रविप्रकाश चौबे, राजीव रंजन तिवारी, निशीथ रंजन तिवारी एडवोकेट, आलोक वर्मा, रामकुंवर यादव, अजय यादव, अनूप मिश्रा इत्यादि ने अपना विचार व्यक्त किया। पंडित अमरनाथ तिवारी ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।