रिपोर्ट, वरूण सिंह 
आजमगढ़। यूपी सरकार की हनक साफ देखने को मिल रही है, आजमगढ़ शहर से सटे हरिहरपुर गांव में संगीत कलाकार की देर रात दबंगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी, इसके बाद पुलिस ने देर रात जहां 2 लोगों को पूछताछ के लिए उठाया, वही 24 घंटा भी नहीं बीता की मुख्य आरोपी के घर पर बुलडोजर चलना शुरू हो गया है, पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य के इस एक्शन से बदमाशों में हड़कंप मचा हुआ है, बता दें कि संगीत जगत में विश्व स्तर पर अपना नाम रोशन कर चुके जनपद के हरिहरपुर गांव में बुधवार की देर शाम संगीत विधा से जुड़े 23 वर्षीय युवा कलाकार आदर्श मिश्रा की गोली मारकर निर्मम हत्या कर दिए जाने के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस भी अपने तेवर में नजर आ रही है, गुरुवार को दिन में पुलिस और प्रशासन के साथ हत्यारोपी के दरवाजे बुलडोजर भी पहुंचा और मुख्य आरोपी का घर गिराना शुरू कर दिया है, हालांकि मुख्य आरोपी के परिजन घर से फरार बताए गए हैं, इसके लिए प्रशासनिक अधिकारियों की मौजूदगी में आरोपी परिवार द्वारा किए गए अतिक्रमण को मुक्त कराने के लिए राजस्व निरीक्षकों से भूमि की नापी कराए जाने के बाद आरोपी का मकान गिराने की कार्रवाई शुरू हो गई है, घटना के बाबत पूछताछ करने के लिए पुलिस ने रात में ही दो युवकों को हिरासत में ले लिया है, देर रात दो अन्य लोगों को भी पुलिस हिरासत में लिया गया है, जिनसे पूछताछ की जा रही है, इस संबंध में मृतक के पिता राजेश मिश्रा ने हरिहरपुर गांव के सुशील उर्फ गोल्डी पुत्र रामनयन यादव सहित चार लोगों के खिलाफ पुत्र की हत्या कर देने के मामले में नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई है, मृतक पक्ष का कहना है कि परिवार की लड़कियों व महिलाओं पर छींटाकशी का विरोध करने पर आदर्श की निर्मम हत्या कर दी गई, लेकिन इस रहस्य से पर्दा उठना अभी बाकी है, जब तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो जाती। हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के लिए गठित की गई पुलिस की चारों टीमें जगह-जगह दबिश दे रही हैं ।