रिपोर्ट राजेश सिंह 

(अतरौलिया) आजमगढ़। स्थानीय थाना क्षेत्र के इंदर पट्टी, भरसानी गांव निवासी किशोर की पुत्री अमता उर्फ बितनी (18) ने बीती रात घर में बने भूसे के कमरे में दुपट्टे के सहारे छत की कुंडी में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुबह जब घर से बाहर नहीं निकली, तो परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू कर दी, तत्पश्चात देखा कि भूसे के घर में दुपट्टे के सहारे उसका बॉडी लटक रही है। परिजनों ने इसकी सूचना तत्काल थाना प्रभारी अतरौलिया को दी। सूचना पर प्रशिक्षु क्षेत्राधिकारी गौरव शर्मा, थाना प्रभारी नदीम अहमद फरीदी, निरीक्षक यशवंत सिंह, उप निरीक्षक प्रभात कुमार पाठक सहित पुलिस घटना स्थल पर पहुंच गई, और शव को नीचे उतारा और घटना के बारे में परिजनों से पूछताछ करने लगी। परिजनों ने बताया कि रात में लगभग 10:00 बजे अमता सभी लोगों को खाना खिलाकर अपने कमरे में सोने चली, गई जब सुबह देखा गया तो भूसे के घर मे उसका शव दुपट्टे के सहारे लटकता मिला। परिजनों के अनुसार परिवार में किसी प्रकार का कोई विवाद भी नहीं हुआ था। मृतका तीन भाई व दो बहनों में सबसे छोटी थी, जो कक्षा 7 तक ही पढ़ी लिखी थी, वहीं मृतका के पिता मेहनत मजदूरी कर परिवार का खर्चा चलाते थे। वह इस घटना से मृतका की मां सुनीता का हो रो कर बुरा हाल है। मृतका के पिता ने थाने में तहरीर देकर आवश्यक कार्रवाई की मांग की है, तत्पश्चात पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर आवश्यक कार्रवाई करते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।