– पुलिस कप्तान की साफ-सुथरी छवि को कर रहे हैं धूमिल
फरिहा, आजमगढ़। निजामाबाद पुलिस अभी कुछ ही दिन पहले पूरी पुलिस चौकी पर धन उगाही के कारण ही बड़ी कार्यवाही हुई थी जिसमें 2 सस्पेंड और 14 लाइन हाजिर हुए थे। इतनी बड़ी कार्रवाई होने के बावजूद फरिहा पुलिस चौकी पर धन उगाही रुक नहीं रही है। उच्च अधिकारियों के आदेश का किसी भी प्रकार का पालन नहीं हो रहा है। ताजा मामला निजामाबाद थाना क्षेत्र के खुदादादपुर गांव निवासी आमिर पुत्र सकलेन के पासपोर्ट की पीसीसी रिपोर्ट फरिहा पुलिस चौकी पर आई थी जिसकी रिपोर्ट लगाने के नाम पर चौकी पर 1000 रुपए मांगा गया किसी तरह से जुगाड़ लगा कर पहुंचा तो तब भी 600 ले लिया गया और बताया गया कि ऊपर से नीचे तक विभाग में देना पड़ता है। पैसा लेने की खबर पीड़ित के एक साथी को लगी तो उसने चौकी पर जाकर कहा कि उनका सब कुछ सही है फिर किस बात का पैसा लिया गया है। पुलिस चौकी पर विरोध होता देख पुलिस चौकी के सिपाही ने दिया हुआ 600 वापस कर दिया गया। स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस चौकी पर हर समस्या के समाधान का रेट निर्धारित है सुलह कराने पर दोनों पक्षों से बाकायदे वसूली होती है। प्रभारी निरीक्षक निजामाबाद दिनेश कुमार यादव से हुई बातचीत में उन्होंने कहा कि जो सिपाही गलत करेगा उसको उसकी सजा मिलेगी।