रिपोर्ट, वरुण सिंह 
सरकार ने देशभर में 10 लाख फर्जी राशन कार्डों को चिंहित किया है, इन राशन कार्डों की समीक्षा चल रही है, कुछ दिन बाद यह संख्या और बढ़ भी सकती है,
इन लोगों के राशन कार्ड रद्द होने की संभावना
जानकारी के मुताबिक फ्री राशन का लाभ देश में 80 करोड़ से ज्यादा लोग ले रहे हैं, लेकिन देश में करोड़ों लोग ऐसे भी हैं जो इस सुविधा लेने के पात्र ही नहीं है, इसके बावजूद भी फ्री राशन सुविधा का लाभ सालों से उठा रहे हैं, हाल ही में सरकार ने 10 लाख अपात्र राशन कार्ड धारकों को चिंहित किया है, जिन्हें अब फ्री गेंहू, चना चावल का लाभ नहीं मिल सकेगा, क्योंकि अपात्र राशन कार्ड धारकों की लिस्ट राशन डीलरों को भेजने के आदेश दिये गये हैं, राशन डीलर नाम चिंहित कर ऐसे कार्ड धारकों की रिपोर्ट जिला मुख्यालयों को भेजेंगे, जिसके बाद इनके कार्ड रद्द कर दिये जाएंगे, एनएफएसए के मुताबिक जो कार्ड धारक इनकम टेक्स पे करते हैं, इसके अलावा जिनके पास 10 बीघा से ज्यादा जमीन हैं, ऐसे लोगों की भी लिस्ट तैयार की है, वहीं कार्ड कैंसिल होने वालों में ऐसे लोग भी शामिल हैं, जिन्होने पिछले 4 माह में फ्री राशन नहीं लिया है, वहीं कुछ लोग ऐसे हैं जो फ्री राशन लेकर व्यापार करते हैं, ऐसे लोगों को भी चिंहित किया है ।