पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर आए दिन छुट्टा जानवरों को बचाने के चक्कर में गाड़ियां पलट रही हैं, जिसके कारण लोगों का मौत का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है, हालांकि सरकार ने इन आवारा पशुओं को पकड़ने के लिए अलग से ठेकेदारी दी है, ग्रामीणों का आरोप है कि ठेकेदार आवारा पशुओं को सड़क पर छोड़ देते हैं, और उन जानवरों का वीडियो बनाकर पकड़ते हैं, ताकि उनको प्रति आवारा पशु 500 रूपए मिल सके

खबर विस्तार से

आजमगढ़ । पवई थाना क्षेत्र के हमीरपुर गांव के पास पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर सोमवार की देर शाम कुत्ते को बचाने के चक्कर में कार खाई में गिर गई। जिसमें दो लोगो की मौके पर मौत हो गई, और चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, इन घायलों को इलाज के लिए पुलिस सामुदायिक स्वास्थ केंद्र पवई लाई, जहां डाक्टरों ने गंभीर हालत देखते हुए हायर सेंटर रेफर कर दिया। जानकारी के मुताबिक बिहार प्रांत के वैशाली जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र के निवासी मो रऊफ उम्र 50 अपनी पत्नी शाहाना उम्र 45 अपने दो पुत्र मो अनस उम्र 15 व अशद उम्र 14 तथा पुत्री आशिया परवीन उम्र16 के साथ अपने घर से पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से अपनी कार वैगन आर द्वारा दिल्ली जा रहे थे। वाहन को दिल्ली के संगमविहार निवासी इबरान चला रहा था। जैसे ही उनकी कार हमीरपुर गांव के समीप एनएच 184 पर पहुंची एक कुत्ता सड़क पर आ गया। जिसे बचाने के चक्कर में तीव्र गति से चल रही कार अनियंत्रित हो कर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के बाई तरफ का डिवाइडर तोड़ते हुए नीचे खाई में गिर गई, जिसमें मो रऊफ की पत्नी शाहाना और पुत्र अनस की मौके पर मौत हो गई, और चालक समेत परिवार के सारे सदस्य गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना मिलने पर पवई थानाध्यक्ष राम प्रसाद बिंद पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों की मदद से कार में फसे लोगो को बाहर निकाला, और घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया ।