गोरखपुर। चन्द्र वीर रमण ने पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक का पदभार सोमवार को ग्रहण कर लिया है। इसके पूर्व आप रेलवे बोर्ड, नई दिल्ली में प्रमुख कार्यपालक निदेशक/सतर्कता एवं मुख्य सतर्कता अधिकारी/रेलवे बोर्ड के पद पर कार्यरत थे ।
आई.आई.टी. खड्गपुर से यांत्रिक इंजीनियरिंग में बी.टेक(आनर्स) की उपाधि प्राप्त करने के पश्चात श्री रमण 1986 बैच के भारतीय रेल भंडार सेवा (आई.आर.एस.एस.) के अधिकारी के रूप में रेल सेवा में आये। आपकी पहली नियुक्ति इन्टीग्रल कोच फैक्ट्री,चेन्नई में सहायक भंडार नियंत्रक के पद पर हुई। तत्पश्चात आपने दक्षिण रेलवे के उप मुख्य सामग्री प्रबन्धक/विक्रय, दक्षिण पश्चिम रेलवे पर मुख्य सामग्री प्रबन्धक, कॉफमऊ में भण्डार नियंत्रक एवं रेलवे बोर्ड में कार्यकारी निदेशक/रेलवे स्टोर्स के दायित्वों का कुशलतापूर्वक निर्वहन किया । श्री रमण ने पूर्वोत्तर सीमान्त रेलवेे पर मंडल रेल प्रबन्धक/अलीपुर द्वार, उत्तर रेलवे पर मुख्य सामग्री प्रबन्धक तथा रेल कोच फैक्ट्री,कपूरथला के प्रमुख मुख्य सामग्री प्रबन्धक जैसे महत्वपूर्ण पदों पर कुशलतापूर्वक कार्य किया ।
आपने भारत एवं विदेशों जैसे- यू.एस.ए., सिंगापुर, मलेशिया, फ्रांस एवं इटली में विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रमों में भाग लिया ।
श्री रमण को रेल प्रशासन एवं प्रबन्धन का गहन अनुभव प्राप्त है। आप अधिकारियों एवं कर्मचारियों में समान रूप से लोकप्रिय हैं।