– गड़बड़ी करने वालों के विरूद्ध की जायेगी सख्त कार्रवाई
बेतिया। वर्ष 2022-23 में धान अधिप्राप्ति का कार्य चल रहा है। इस वर्ष जिले को 90000 एमटी धान अधिप्राप्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। धान अधिप्राप्ति कार्य का जिलास्तर पर लगातार अनुश्रवण किया जा रहा है ताकि किसी भी स्तर पर गड़बड़ी की संभावना नहीं रहे।
इस निमित जिलाधिकारी द्वारा धान अधिप्राप्ति कार्यों की प्रगति की समीक्षा की गयी तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि धान अधिप्राप्ति में विभागीय दिशा-निर्देशों का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जाय। साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाय कि किसी भी स्तर पर गड़बड़ी नहीं होने पाए। गड़बड़ी की शिकायत मिलने पर तुरंत जांच करायी जायेगी तथा दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जायेगा, सख्त कार्रवाई की जायेगी।
जिलाधिकारी ने निदेश दिया कि पूर्ण पारदर्शी तरीके से धान अधिप्राप्ति का कार्य सुनिश्चित किया जाय और ससमय निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति की जाय। उन्होंने कहा कि निबंधित 6017 किसानों से समन्वय स्थापित कर धान अधिप्राप्ति में तेजी लायी जाय। जिला सहकारिता पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि जिले में निर्धारित लक्ष्य के विरूद्ध अबतक 64 किसानों से 494.04 एमटी धान की अधिप्राप्ति की गयी है। 164 समितियां वर्तमान में क्रियाशील है जिसमें 163 पैक्स एवं 01 व्यापार मंडल शामिल है। उन्होंने बताया कि सभी स0 प्र0 पदा0 को निदेशित किया गया है शेष समितियों का चयन अविलंब करते हुए धान अधिप्राप्ति में तेजी लायी जाय और निर्धारित लक्ष्य को ससमय पूर्ण किया जाय।
इस अवसर पर उप विकास आयुक्त, अनिल कुमार, अपर समाहर्ता, राजीव कुमार सिंह, अनिल राय, जिला सहकारिता पदाधिकारी, अमृतांश ओझा सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।