– मुबारकपुर गर्ल्स डिग्री कालेज में जश्ने इकबाल का आयोजन
मुबारकपुर, आजमगढ। मुबारकपुर गर्ल्स डिग्री कालेज में बुधवार को जश्न ए इकबाल का आयोजन किया गया। स्कूल की छात्राओं द्वारा सभी मुख्य अतिथि को गुलदस्ता पेश करके स्वागत किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता डाक्टर महबूब आज़म सर्जन और संचालन आमिर फहीम ने की। इस अवसर पर पदम श्री प्रोफेसर अख्तरूल वासे खुसरू फाउंडेशन नई देहली ने कहा कि अल्लामा इक़बाल की नज़मे अगर आप पढ़ें तो उसके अंदर हिंदुस्तान से मोहब्बत कूट कूट कर भरी हुई है। इकबाल का कलाम अमर है जिंदा है और इकबाल का कलाम ज़िन्दा लोगों की पहचान है उन्होंने ये भी कहा कि उर्दू और फारसी को इस बात का कमाल हासिल है कि उसने इकबाल जैसा शायर पैदा किया। प्रोफेसर तौकीर अहमद खान पुर्व अध्यक्ष विभाग उर्दू देहली यूनिवर्सिटी ने मैनेजर डाक्टर शमीम अहमद अंसारी और आमिर फहीम को मुबारकबाद पेश करते हुए कहा डाक्टर अल्लामा इकबाल एक महान विचारक, सर्वश्रेष्ठ लेखक और कवि थे। उन्होंने अल्लामा इकबाल के व्यक्तित्व और कविता पर रोशनी डालते हुए कहा कि इकबाल अपने जमाने की जरूरत थे। अल्लामा की ग़ज़लों में भी विचार और दर्शन का एक मॉडल है। स्कूल के मैनेजर डाक्टर शमीम अहमद अंसारी ने कहा कि अल्लामा इक़बाल साफ दिल व दिमाग के मालिक थे आप की शायरी ज़िंदा शायरी है जो हमेशा लोगों के लिए मशअले राह होगी। कार्यक्रम के आखिर में भाग लेने वाली सभी छात्राओं को मुख्य अतिथि के हाथों पुरस्कार दिया गया। इस अवसर पर मास्टर फारूक, कारी शफीक, मौलाना इनामुरर्हमान, मास्टर इरफान, मास्टर कमर सेराज, हाजी हशमतुल्लाह, जमाल अशरफ, अनवारूल हक, एस के पांड प्रिसिंपल, मास्टर फिरोज़, मोईनुद्दीन, हाफिज़ एखलाक, अब्दुल हमीद, वकार सभासद सहित काफी संख्या में छात्राएं उपस्थित थीं।