सगडी़, आजमगढ़। सगड़ी तहसील पर आयोजित पोखरा नीलामी में कर्मचारियों के कार्यों से असंतुष्ट दिखे नीलामी लेने वाले लाभार्थी अखबार के माध्यम से विज्ञापन में जो समय निर्धारित किया गया था उसके अनुसार नीलामी का फार्म न लेने और नीलामी की बोली ना करने पर बिलरियागंज ब्लाक क्षेत्र के जमीन फरेंदा, रेगनु गांव चक फेरेंद निवासी प्रदीप कुमार राय ने आरोप लगाते हुए कहा कि मैं सुबह 10 बजे तहसील सगड़ी पर आया और समय से पहले गाटा संख्या 76 पर मौजूद अपने गांव की पोखरी का फार्म जमा किया और पोखरी की बोली के लिए तहसील पर रूका रहा तभी लगभग 1 बजे के दरमियान मेरा विपक्षी शैलेंद्र प्रताप व महेश गोड़ भी तहसील पर आये और पोखरे नीलामी की लाइन में लग गये मुझे ऐसा लगता है कि अधिकारियों व कर्मचारियों की मिलीभगत होने के कारण व्यक्तिगत लाभ पहुंचाने के लिए समय सीमा के अनुसार कार्य नहीं कराया जा रहा है जिससे अधिकारी कर्मचारियों के व्यक्तिगत चहेतों को लाभ मिल सके। वही तहसील सगड़ी के कांग्रेस प्रवक्ता ओमकार पांडे ने तहसील सगड़ी पर आयोजित पोखरा नीलामी को लेकर तहसील के अधिकारी और कर्मचारियों पर आरोप लगाते हुए कहा कि पोखरा नीलामी में भ्रष्टाचार हो रहा है भाजपा के लोगों द्वारा भ्रष्टाचार किया जा रहा है क्योंकि भाजपा के लोगों को पोखरा मिले यह भ्रष्टाचार तहसील पर चल रहा है पोखरा नीलामी का कार्य समय से नहीं की जा रही है क्योंकि भाजपा के लोगों को लाभ दिलाना है।