– नगर में कई जगह निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का हुआ आयोजन
मऊ। विश्व मधुमेह दिवस के अवसर पर शारदा नारायण वेलफेयर ट्रस्ट एवं लायंस क्लब मऊ के संयुक्त तत्वाधान में एक जागरूकता रैली का आयोजन किया गया। रैली को अस्पताल के चैयरमेन डॉ संजय सिंह ने हरी झंडी देकर रवाना किया। रैली अस्पताल परिसर से शुरू होकर ग़ाज़ीपुर तिराहा से आज़मगढ़ मोड़ होते हुए अस्पताल परिसर पे समाप्त हुई। रैली में जागरूकता नारे और जागरूकता सन्देश लिखे बैनर के साथ लोगो को जागरूक किया गया। इसके उपरांत अस्पताल परिसर में गोष्ठी एवं निःशुल्क मधुमेह जांच शिविर का आयोजन किया गया जिसका उद्धघाटन मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ नरेश अग्रवाल द्वारा फीता काट कर किया गया। अपने संबोधन में डॉ अग्रवाल ने कहा की ये बेहद सराहनीय कार्य है इससे समाज को एक बेहतर सन्देश मिला है। उपस्थित लोगो से एक बेहतर समाज बनाने के लिए और खुद को स्वस्थ रखने के लिए शपथ भी दिलवाई। चैयरमेन डॉ संजय सिंह ने बताया की की वर्ल्ड डायबिटीज डे की इस साल की थीम एक्सेस टू डायबिटीज एजुकेशन है। डायबिटीज एक तरह का मेटाबोलिक डिसऑर्डर होता है। इस बीमारी के बारे में शिक्षा के माध्यम से जागरूकता फैलाई जा सकती है, इसलिए कुछ डायटरी बदलावों और नियमित रूप से एक्सरसाइज करके व्यक्ति अपने आप को इस बीमारी के रिस्क से बाहर ला सकता है। डायबिटीज डे को मनाना इसके बारे में जागरूकता फैलाने के लिए ज़रूरी है, ताकि सब लोगों को इसके लक्षणों और कब से उपचार करवाना शुरू करना है, इस बारे में पता चल सके। आगे डॉ सिंह ने बताया की भारत में डायबिटीज के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। कई युवा भी इस बीमारी का तेजी से शिकार हो रहे हैं जिसकी सबसे बड़ी वजह लोगों की गलत लाइफस्टाइल और खानपान है। डायबिटीज के मरीजों को अपने आहार पर खास ध्यान रखना पड़ता है। इस बीमारी में मरीजों को लो कॉर्ब और हाई प्रोटीन डाइट लेने की सलाह दी जाती है। है ताकि उनका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहे। कार्यक्रम का सञ्चालन मेडिकल डायरेक्टर डॉ सुजीत सिंह ने किया। वही इस मौके पर नगर के मिर्जाहादीपुरा, औरंगाबाद, शाही कटरा मैदान और चौक पर निःशुल्क स्वास्थ शिविर लगाया गया जहा लगभग 450 लोगो को परामर्श कर जांच की गयी। इस मौके पर डॉ एकीका सिंह, डॉ मधुलिका सिंह, डॉ राहुल कुमार, डॉ रुपेश के सिंह, पूर्व चैयरमेन अरशद जमाल आदि लोग मौजूद रहे।