– अपर आयुक्त मनरेगा लखनऊ के निर्देश पर हुई जांच
सगड़ी, आजमगढ़। अजमतगढ़ ब्लॉक के डीघवानिया काजी गांव में बुधवार को जांच टीम पहुंची। जहां मनरेगा द्वारा कराए गए लगभग दो इंटरलॉकिंग कामों में कई खामियां मिली। जांच टीम के आरके सिंह ने कहा कि मानक की जांच कर संबंधित से धनराशि की वसूली के साथ-साथ अन्य विधिक कार्रवाई भी की जाएगी। जांच के उपरांत रिपोर्ट शासन को भेजी जाएगी। अपार आयुक्त मारेगा लखनऊ के निर्देश पर अजमतगढ़ ब्लॉक के डीडवानिया काजी गांव में मंडलीय प्राविधिक परीक्षण ग्रामीण विकास अधिकारी आरके सिंह ने 10 से ऊपर पत्रावली की बिंदुवार जांच की ।जिसमें गांव में पूर्व में कराए गए जांच के क्रम में बुधवार को जांच की गई जहाँ जांच टीम ने इण्टरलाकिंग नाला कच्चा कार्य आदि के कार्यो की जांच की गई।कई जगह पर जांच टीम ने गड़बड़ी पकड़ी जिससे लोग सकते में आ गए । वहीं उन्होंने जांच टीम के साथ बारीकी से एक एक कार्यों की जांच शुरू कर की एवं इंटरलॉकिंग की खुदाई आदि कराई। वह ग्रामीणों की शिकायतें भी सुनी साथ ही साथ कई ग्रामीणों से भी पूछताछ किया जांच के दौरान ब्लॉक के कई ग्राम विकास अधिकारी मौजूद थे। हालांकि जांच सुबह 10 बजे से प्रारंभ की गई और जांच लगभग 5ः30 तक की गई लंबी जांच के दौरान ग्रामीणों को भी सुनते हुए उन्होंने जांचा परखा और कहा कि आपके पास यदि कोई शिकायत हो तो आप लोग भी बताए पर ग्रामीणों ने किसी प्रकार की शिकायत नहीं की। इस दौरान जांच में कई जगह गड़बड़ी पाई गई जिस पर मंडली प्राविधिक परीक्षण ग्रामय विकास अधिकारी आरके सिंह ने कहा कि पूर्व में मनरेगा आयुक्त लखनऊ द्वारा की गई थी इसी के क्रम में जांच की जा रही है। जांच में अभी तक जांच ठीक मिली पर कुछ कार्यों में लापरवाही बरती गई है मानक आदि का मिलान करने के उपरांत यदि कमी पाई गई तो वसूली करते हुए कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान ग्रामय विकास अधिकारी कमलेश कुमार ग्राम विकास अधिकारी अमरदीप शर्मा अमरेश मौर्य सहित ग्राम प्रधान प्रतिनिधि दिनेश कुमार यादव सहित गांव के तमाम लोग मौजूद थे।