अतरौलिया, आजमगढ़। सोमवार को श्रद्धांजलि सभा मदियापार अहिरौला मार्ग पर स्थित शहीद उपवन में 1962 के भारत चीन युद्ध में शहीद हुए भगवती प्रसाद सिंह के शहादत दिवस पर उनके आदमकद प्रतिमा पर पुष्प माला अर्पित कर लोगो ने भारत माँ के वीर अमर सपूत को याद किया गया। कार्यक्रम में सर्वप्रथम नेशनल कैडेट कोर एनसीसी के बच्चों द्वारा शहीद उपवन में आदमकद प्रतिमा पर सलामी दी गई। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मेजर शैलेंद्र सिंह सेंगर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष क्षत्रिय परिषद रहे तथा विशिष्ट अतिथि जयनाथ सिंह,पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा, बीके सिंह प्रदेश उपाध्यक्ष विश्व छत्रिय परिषद, नायब तहसीलदार धर्मेंद्र सिंह रहे। कार्यक्रम का संचालन कवि भालचंद्र त्रिपाठी ने किया तथा अध्यक्षता भगत सिंह ने किया। सर्वप्रथम मुख्य अतिथि शैलेंद्र सिंह सेंगर,तथा विशिष्ट अतिथि जयनाथ सिंह, बीके सिंह चौहान एवं ललिता देवी शहीद भगवती सिंह की 84 वर्षीय पत्नी समेत लोगो ने पुष्प और माला पहनाकर 1962 के युद्ध मे देश के लिए अपने प्राण न्योछावर करने वाले अमर शहीद भगवती सिंह को नमन किया। शहीद को याद कर उनकी पत्नी ललिता देवी की आंखों में आंसू आ गए। इस अवसर पर उनकी एकमात्र पुत्री सुदामा देवी भी मौजूद रही। इस अवसर पर ठाकुर प्रसाद सिंह कॉन्वेंट स्कूल बसही बस्ती भुजबल के बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किया गया जिसमें छोटे-छोटे बच्चों ने नाटक के माध्यम से देश के जवानों के भेष में नाटक प्रस्तुत किया, बच्चों का नाटक देख लोगों की आंखों में आंसू आ गए वही विद्यालय की बच्चियों ने नाटक के माध्यम से वीर सैनिकों को श्रद्धांजलि दिया। इसी क्रम में आरपीएस कॉन्वेंट स्कूल नाउपुर के बच्चों ने शहीद के सम्मान में कई नाटक प्रस्तुत किया। मुख्य अतिथि ने कहा कि मुझे यह सौभाग्य मिला कि 1962 चीन युद्ध के नायक भगवती सिंह के शहादत दिवस पर उपस्थित हुआ हूं, यह बहुत ही अच्छी और स्वस्थ परंपरा है। जिन्होंने देश के लिए कुर्बानी दी, देश को आगे बढ़ाया और इस देश की एकता और अखंडता को एक रखा उनकी आज शहादत दिवस पर हम उन्हें याद करें और यह सोचे कि जिस देश को आगे बढ़ाने के लिए अपनी जान की बाजी लगा दी उस देश को कैसे हम लोग मिलकर एक रखें ,अखंड रखें। उन्होंने कहा कि शहीदों तथा उनके परिवार के सम्मान में जितना भी हो सकता है हर संभव मदद करेगे। विशिष्ट अतिथि जयनाथ सिंह ने कहा कि मैं इस माटी और इस माटी के लाल को नमन करता हूं तथा नम आंखों से भावभीनी श्रद्धांजलि देता हूं। देश के लिए अपने अपने प्राणों की बाजी लगाने वाले ऐसे वीर सपूतों को नमन करता हूं। आज ऐसे कार्यक्रम में सम्मिलित होकर अपने को बहुत गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। कार्यक्रम के आयोजक व्यवस्थापक डॉ राजेंद्र सिंह ने आए हुए सभी लोगों का आभार व्यक्त किया। इस मौके पर ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि संतोष यादव, हरीश तिवारी, पशुपतिनाथ सिंह, रमाकांत सिंह, श्रीकांत सिंह, हरिश्चंद्र यादव, बृजभान राजभर, प्रमोद सिंह, जयंत सिंह, प्रदीप, कवि गौरव श्रीवास्तव, परम बाबा, राकेश मिश्रा, समेत भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।