– विधान सभा निर्वाचक सूची के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम की हुई समीक्षा
बेतिया। जिलाधिकारी-सह-जिला निर्वाचन पदाधिकारी, कुंदन कुमार द्वारा विधान सभा निर्वाचक सूची के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत किये जा रहे कार्यों की समीक्षा की गयी। जिलाधिकारी ने कहा कि निर्वाचन विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप ससमय सभी कार्यों को निष्पादित कराना सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि विशेष अभियान के तहत मतदाताओं के दावे एवं आपत्तियों का निष्पादन किया जाय।
उन्होंने कहा कि लिंगानुपात का अन्तर कम करने हेतु महिलाओं का नाम निर्वाचक सूची में अधिक से अधिक दर्ज किया जाय। साथ ही नवयुवकों एवं नवयुवतियों को निर्वाचक सूची में सम्मिलित करने हेतु विशेष रूप से ध्यान देने की आवश्यकता है। इस कार्य में जिले के मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के अध्यक्ष/सचिव से सहायता ली जा सकती है। जिलाधिकारी कार्यालय प्रकोष्ठ में अधिकारियों को निदेशित कर रहे थे।
जिलाधिकारी ने निदेश दिया कि जिला में कार्यरत सभी बीएलओ को प्राप्त प्ररूप 6, 7 एवं 8 को ऑनलाइन डिजिटाईजेशन कराने हेतु निदेशित करें तथा लगातार अनुश्रवण करते रहे। उन्होंने कहा कि वोटर हेल्पलाईन (भीएचए) एनवीएसपी का व्यापक प्रचार-प्रसार कराना सुनिश्चित किया जाय ताकि मतदाता स्व्यं मोबाईल फोन के माध्यम से अपना नाम निर्वाचक सूची में सम्मिलित या सुधार कर सकें।
उप निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि 03 दिसम्बर 2022 एवं 04 दिसम्बर को विशेष अभियान तिथि निर्धारित की गयी है। उक्त तिथियों को संबंधित मतदान केन्द्र पर मतदान केन्द्र स्तरीय पदाधिकारी (बीएलओ) के पास प्ररूप 6, 7 एवं 8 में आवेदन आवश्यक कागजात (आयु एवं सामान्यतः निवास से संबंधित प्रमाण पत्र) के साथ मतदाता जमा कर सकते हैं।
उन्होंने बताया कि जिलास्तर पर पुनरीक्षण अवधि में किये जाने वाले कार्यों के अनुश्रवण/सुझाव हेतु टोल फ्री हेल्पलाइन सेंटर 1950 का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि विधान सभा निर्वाचक सूची के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत 05 जनवरी 2023 को निर्वाचक सूची का अंतिम प्रकाशन किया जाना है।
इस अवसर पर उप विकास आयुक्त, अनिल कुमार, अपर समाहर्ता, राजीव कुमार सिंह, अनिल राय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।