आजमगढ़। आइडियल जर्नलिस्ट एसोसिएशन के राष्ट्रीय संरक्षक प्रभु नारायण पांडे प्रेमी जी के घोरठ स्थित आवास पर सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। समारोह में मुख्य अतिथि विद्वान मुख्य अभियंता विद्युत वितरण आजमगढ़ क्षेत्र अनिल नारायण सिंह का राष्ट्रीय संरक्षक सम्मान पत्र व अंगवस्त्रम एवं विद्युत कर्मचारी संघर्ष समिति के उप संयोजक आशेष सिंह द्वारा बुके एवं माल्यार्पण कर सम्मानित किया गया। उक्त अवसर पर प्रवीण व वैभव द्वारा गोपी गीत व राधा गीत गाकर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। वही समारोह की अध्यक्षता कर रहे अधीक्षण अभियंता विद्युत वितरण मंडल द्वितीय आजमगढ़ अजय मिश्र को आइडियल जर्नलिस्ट एसोसिएशन के प्रमुख राष्ट्रीय महासचिव द्वारा सम्मान पत्र बुके व तहसील इकाई मेहनगर के अध्यक्ष जयप्रकाश श्रीवास्तव द्वारा अंगवस्त्रम वह माल्यार्पण कर मुख्य अभियंता विद्युत वितरण अनिल नारायण सिंह को सम्मानित किया गया है। समारोह में न्यूज नाइन यूपी के चीफ एडिटर द्वारा मुख्य अभियंता को बुके एवं वीरेंद्र यादव पूर्व प्रधान, भोला त्रिपाठी परशुराम सेना के प्रदेश संयोजक संजय दुबे, संजीव तिवारी, विजय प्रताप सिंह, अभिषेक सिंह, मेहनगर तहसील अध्यक्ष जय प्रकाश श्रीवास्तव द्वारा समाजसेवी व्यवसाई वॉइस के सिंह एंड कंपनी के मैनेजर सुजीत कुमार सिंह, मुख्य अभियंता अधीक्षण अभियंता, वह कवी प्रेमी जी को माल्यार्पण कर सम्मानित किया गया। संगठन के राष्ट्रीय महासचिव संजय कुमार पांडे ने कहा कि जब से मुख्य अभियंता ने आजमगढ़ क्षेत्र का कार्यभार ग्रहण किया है तब से विद्युत आपूर्ति एवं जन समस्याओं का समाधान अच्छे ढंग से हो रहा है। आम जनता में आप की छवि बढी है। समारोह की अध्यक्षता कर रहे अधीक्षण अभियंता अजय मिश्रा ने कहा कि आइडियल जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने जो मुझे सम्मानित किया गया है मैं इससे भुला कर भी नहीं भूल सकता। अपने सम्मान से अभिभूत मुख्य अभियंता अनिल नारायण सिंह ने कहा कि तहसील इकाई मेहनगर द्वारा मुझे यहां सम्मानित किया गया है मैं संगठन की सभी पत्रकार साथियों के प्रति आभार प्रकट करता हूं। विचार व्यक्त करने वालों में आशिष सिंह तहसील मेहनगर के अध्यक्ष जय प्रकाश श्रीवास्तव, भोला त्रिपाठी, मनोज पांडे रहे। अंत में राष्ट्रीय संरक्षक कवि पत्रकार श्रमिक नेता श्री प्रभु नारायण पांडे प्रेमी जी ने कहा कि विद्वान मुख्य अभियंता पत्रकारों को बराबर सम्मान देने का कार्य करते हैं यह लोकतंत्र के चौथे स्तंभ का सम्मान है आज उसकी जरूरत है। उप संयोजक अशिष सिंह ने आए हुए सभी अतिथियों के प्रति आभार प्रकट किया।