रिपोर्ट, मोहम्मद अकलेन 
आजमगढ़। जनपद में सुदृढ़ कानून व्यवस्था के दृष्टिगत अपराध गोष्टी में पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने टाप व सक्रिय अपराधियों की जानकारी न होने, दिसम्बर माह में चलाए गए अभियानों में लापरवाही बरतने पर थानाप्रभारी तहबरपुर क्राइम ब्रांच का जहां हटा दिया है वहीं मुबारकपुर व गंभीरपुर थानाध्यक्ष को चेतावनी दी है, यही नहीं एसपी ने पीड़ित व्यक्तियों व फरियादियों के साथ समानुभूति व सहानुभूति रखते हुए जनसुनवाई का निर्देश दिया है। पुलिस लाइन सभागार में पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य द्वारा अपराध गोष्ठी आयोजित कर जनपद में सुदृढ़ कानून व्यवस्था व अपराधियो पर प्रभावी अंकुश लगाए जाने हेतु कृत कार्यवाहियों की समीक्षा की गयी। उपरोक्त गोष्ठी में अपर पुलिस अधीक्षक नगर शैलेंद्र लाल, अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण राहुल रूसिया व समस्त क्षेत्राधिकारी/प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष उपस्थित रहें। बैठक में वर्ष 2022 में निरोधात्मक कार्यवाही करने में सर्किल लालगंज व थाना देवगांव सबसे उत्कृष्ट रहे। जनसुनवाई में सकारात्मकता सुधार में सर्वप्रथम थाना कोतवाली रहा। जनपद में वर्ष 2022 के उत्कृष्ट चौकी प्रभारी सिंहपुर रहे। जनपद के समस्त थाना प्रभारियों को गैंगेस्टर एक्ट के अन्तर्गत 14(1) में सम्पत्ति कुर्क कराने के निर्देश दिए गए। जनसुनवाई में लापरवाही बरतने पर थानाप्रभारी मुबारकपुर व गम्भीरपुर को चेतावनी दी गई। लूट व नकबजनी की घटनाओं के अनावरण में थाना देवगांव व जीयनपुर द्वारा उत्कृष्ट कार्यवाही की गई तथा थाना तहबरपुर द्वारा सबसे असंतोषजनक कार्यवाही की गई है। वर्ष 2022 में थाना प्रभारी कन्धरापुर को एक भी हिस्ट्रीशीट न खोलने पर चेतावनी जारी की गई। जनसुनवाई में लापरवाही पर चौकी प्रभारी एलवल (कोतवाली) को चेतावनी जारी की गई। जनपद के थाना परिसरों में सुंदरीकरण व सुधार के लिए वार्षिक अनुरक्षण बजट से थाना कोतवाली-5 लाख, गम्भीरपुर-3 लाख, अतरौलिया-3 लाख, देवगांव-2 लाख, बरदह-मेंहनगर-1-1 लाख, महाराजगंज-3 लाख आवंटित किया गया, वर्ष 2023 में प्रत्येक माह अपराध नियंत्रण, अपराधियों पर कार्यवाही व जनसुनवाई की सफलता के आधार पर माह के सर्वश्रेष्ठ थानाध्यक्ष का चुनाव किया जाएगा। इसके लिए मार्किंग सिस्टम बनाया गया है जिसमे कार्यवाही के लिए नम्बर निर्धारित किये गए हैं। असंतोषजनक कार्यप्रणाली वाले थाना प्रभारियों पर कार्यवाही की जाएगी 
गोष्ठी के विभिन्न बिन्दु
1.पशु चोर, नकबजन, वाहन चोर के खिलाफ सत्यापन अभियान चलाया जाये।
2.अवैध शराब के निष्कर्षण, परिवहन, बिक्री के खिलाफ कार्यवाही की जाये।
3.कुख्यात अपराधियों द्वारा अवैध रूप से अर्जित की सम्पत्ति को चिन्हित की जाये।
4.अपराधिक प्रवृत्ति वाले व्यक्तियों के खिलाफ गुण्डा, गैंगस्टर व हिस्ट्रीशीट की कार्यवाही की जाये।
5.व्यापारिक प्रतिष्ठान की सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में व्यापारियों के साथ गोष्टी की जाये तथा सभी प्रतिष्ठान पर CCTV की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। 
6.संवेदनशील स्थानों पर भी सीसीटीवी कैमरा लगवाये जायें।
7.गोवध,तस्करी,बिक्री पर प्रभावी अंकुश लगाया जाये।                                                                8.लम्बित विवेचनाओं का निस्तारण प्रथमिकता के आधार पर सुनिश्चित किया जाये।                            9. पुलिस लाइन्स, शाखाओं एवं थानों पर स्वच्छता अभियान के तहत साप्ताहिक श्रमदान के रूप में प्रत्येक रविवार को साफ-सफाई सुनिश्चित की जाये।  
10. शीतकालीन समय होने के कारण रात्रि गश्त करते हुए सतर्क दृष्टि रखी जाय तथा अवांछनीय तत्वों के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही की जाये।
11. प्रतिदिन फुट-पेट्रोलिंग करते हुए आम जनमानस से समन्वय स्थापित किया जाये।
12. स्थान बदल-बदल कर संदिग्ध वाहनों एवं व्यक्तियों की चेकिंग की जाये।
13. वांछित अभियुक्तों के विरूद्ध अभियान चलाकर गिरफ्तारियां की जाये। 
14. एन्टी रोमियों टीम द्वारा विद्यालय, कोचिंग संस्थान आदि में नियमित रूप से प्रभावी चेकिंग की जाये। 
15. आगामी त्यौहार के दृष्टिगत संवेदनशील, मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों पर विशेष सतर्क दृष्टि रखी जाय तथा छोटी से छोटी घटना घटित होने पर तत्काल मौके पर पहुँचकर समाधान/नियमानुसार विधिक कार्यवाही की जाये।