रिपोर्ट, आफताब आलम 
लखनऊ। यूपी एसटीएफ ने एक गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो कैमिकल्स आदि मिलाकर फर्जी तरीके से नामचीन कम्पनियों के नाम का रैपर लगाकर नकली घी बनाने और बेचने का काम करते थे, एसटीएफ ने सरगना समेत 4 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है, गिरफ्तार अभियुक्तों में तीन दिल्ली व एक यूपी के आजमगढ़ का निवासी है, बता दें कि गिरफ्तार अभियुक्तों के गैंग लीडर गौतमपुरी, थाना गौतमपुरी बदरपुर, दिल्ली का विकास कुमार अग्रवाल है, अन्य अभियुक्तों में गौतमपुरी, बदरपुर, दिल्ली निवासी दीपक, आली गॉव, थाना सरिता विहार, दिल्ली निवासी मनेश ठाकुर व थाना मुबारकपुर, जनपद आजमगढ़ निवासी चन्द्रशेखर पुत्र हसनु है, सूचना के आधार पर एसटीएफ और खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने एक्सप्रेस-वे क्षेत्र के वाजिदपुर गांव में शुक्रवार की रात को छापेमारी की, गिरफ्तार अभियुक्त यहां संदीप चौहान के मकान में अवैध रूप से नकली देसी घी बनाने की फैक्ट्री चला रहे थे, मौके पर मिलावटी देशी घी की 30 पेटी (अमूल की 16 पेटी, मदर डेरी की 14 पेटी), 19 टीन रिफाइंड सोयाबीन आयल मार्का, बेस्टच्वाइस, बनस्पति मार्का विभोर, बटर कलर लगभग 3 लीटर, 15 कार्टून एवं 22 बोरे रैपर मय पोली पैक मार्का अमूल, मदर डेरी, पतंजली, मिल्क फूड एवं मिल्कोज, 23 गड्डी पैकेजिंग गत्ता मार्का मदरडेरी, पंतजली, मिल्कफूड एवं कृष्णा, 14 अदद खाली टिन रिफाइंड आयल एवं वनस्पति के, 25 पैकिंट होलोग्राम, 10 अदद स्टीकर पैकिट, 5 अदद गैस चूल्हा, पैकेजिंग मशीने और अन्य सामान बरामद किया है ।