अतरौलिया, आजमगढ़। क्षेत्र के चत्तुरपुर मधईपट्टी गांव में बीती शाम को करीब 7 बजे कुछ बच्चे निर्माणाधीन मकान के नीचे खेल रहे थे जिनके ऊपर अचानक से छत का छज्जा टूट कर गिर जाने से अनीश पुत्र रविंद्र 8 वर्ष की मौके पर ही मृत्यु हो गई तथा सचिन पुत्र संजय 10 वर्ष, किशन पुत्र अरविंद 9 वर्ष, अर्पिता पुत्री संजय 7, वैभव पुत्र अभिनन्दन 8 वर्ष, सलोनी पुत्री संदीप 9 वर्ष घायल हो गए, जिनको इलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा गया। बता दें की थाना के चत्तुरपुर मधईपट्टी गांव में शनिवार को गमनीय माहौल के बीच एक और गम ने सभी को मर्माहत कर दिया। तेरहवीं के भोज में शामिल होने गए बच्चे एक निर्माणाधीन मकान के बाहर खेल रहे थे कि मकान का छज्जा व दीवार उनके ऊपर ही गिर गई।जिसमे एक बालक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पांच घायल हो गए। गांव के संतराम राजभर के पिता विंदेश्वरी राजभर का त्रयोदशाह शनिवार को आयोजित किया गया। जिसमें गांव सहित आसपास के लोग आमंत्रित थे। भोज में शामिल होने के लिए गांव के ही बच्चे अनीस, सचिन, किशन, वैभव, सलोनी व अर्पिता भी पहुंचे थे। भीड़ को देख सभी बच्चे निर्माणाधीन मकान के बाहर स्थान खाली होने का इंतजार कर रहे थे। इसी बीच मकान का छज्जा और एक दीवार उनके ऊपर जा गिरी। इसके बाद मलबे में दबे बच्चों की चीख सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और सभी को मलबे से बाहर निकाला, लेकिन तब तक अनीस ने दम तोड़ दिया था। सभी घायलों को अतरौलिया के 100 शैय्या अस्पताल पहुंचाया गया, जहां से सभी की हालत देख हायर सेंटर के लिए रेफर कर दिया गया। मृतक की मां किरन देवी का रो-रोकर बुरा हाल था। मृतक अनीस दो भाईयों में बड़ा था। उसके पिता रविंद्र राजभर एक माह पहले ही कमाने लिए लुधियाना गए थे। घर पर माता किरन एवं दादी हैं। परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। उधर, नायब तहसीलदार बूढ़नपुर रंजीत बहादुर सिंह व थाना प्रभारी प्रमेंद्र कुमार सिंह भी मौके पर पहुंच गए और पीड़ित परिवार को हर संभव मदद का आश्वासन दिया।