रिपोर्ट, वरुण सिंह 
आजमगढ़ पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने थाना मेंहनाजपुर क्षेत्र के मेहनाजपुर गांव के दक्षिण के पुरा में आवास आवंटन को लेकर चल रही बैठक में हुई हत्या की घटना के सम्बन्ध में आपराधिक इतिहास वाले व्यक्तियों के विरूद्ध समय से निरोधात्मक कार्यवाही न करने, अभिसूचना संकलन न कर पाने व घोर लापरवाही के कारण प्रभारी निरीक्षक मेंहनाजपुर राम उजागिर को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है, अब पुलिस अधीक्षक ने उ0नि0 सुनील दुबे (वर्तमान चौकी प्रभारी पहाड़पुर) को प्रभारी थाना मेंहनाजपुर नियुक्त किया है। बता दें कि मंगलवार को
मेहनाजपुर थाना अंतर्गत मेहनाजपुर थाना अंतर्गत मेहनाजपुर गांव के दक्षिण के पुरा में आवास आवंटन को लेकर चल रही बैठक में विवाद हो गया, जिसमें पूर्व प्रधान शिव शिव शंकर सिंह उर्फ भूरे सिंह व दूसरे पक्ष भीम सिंह के बीच विवाद हुआ, भूरे सिंह व उसके साथियों के द्वारा लाइसेंसी शस्त्र से फायर किया गया है, जिसमें हिमांशु सिंह के सीने में गोली लगी, और उनकी मौके पर मौत हो गई, इसके अलावा भीम सिंह व मुन्ना सिंह के पैर में गोली लगी है । इस मामले में पुलिस ने पांच को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है ‌। वहीं पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने एसओजी  सहित चार टीमें गिरफ्तारी के लिए गठित किया है ।हो गया, जिसमें पूर्व प्रधान शिव शिव शंकर सिंह उर्फ भूरे सिंह व दूसरे पक्ष भीम सिंह के बीच विवाद हुआ, भूरे सिंह व उसके साथियों के द्वारा लाइसेंसी शस्त्र से फायर किया गया है, जिसमें हिमांशु सिंह के सीने में गोली लगी, और उनकी मौके पर मौत हो गई, इसके अलावा भीम सिंह व मुन्ना सिंह के पैर में गोली लगी है । इस मामले में पुलिस ने पांच को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है ‌। वहीं पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने एसओजी  सहित चार टीमें गिरफ्तारी के लिए गठित किया है ।