स्वतंत्र भारत लालगंज से विनय शंकर राय की रिपोर्ट
(लालगंज) आज़मगढ़ । राजकीय इंजिनियरिंग कॉलेज देवगांव में उन्नत भारत अभियान के अंतर्गत आईआईटी बीएचयू वाराणसी के विशेषज्ञों के द्वारा रूरल इंडिया वेलनेस प्रोग्राम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए संस्थान के निदेशक प्रोफेसर बीके त्रिपाठी ने संस्थान के सामाजिक दायित्वों के प्रति सभी को जागरुक करते हुए विकसित भारत में संपन्न एवं समृद्ध ग्रामीण जीवन के महत्व को रेखांकित किया। संस्थान के कुलसचिव डॉ अम्बरीष सिंह ने सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए कार्यक्रम की प्रस्तावना को प्रस्तुत किया, एवं संस्थान के द्वारा ग्रामीण एवं समाजिक विकास की दिशा में लगातार किए जा रहे प्रयासों की विस्तार पूर्वक चर्चा की । संस्थान के उन्नत भारत अभियान सेल के समन्वयक डॉ अनूप नारायण सिंह ने भारत सरकार की महत्वाकांक्षी उन्नत भारत अभियान योजना एवं संस्थान के द्वारा उसके अन्तर्गत किए जा रहे कार्यों को सभी से साझा किया । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री कृष्ण गीता राष्ट्रीय पीजी कॉलेज लालगंज के प्राचार्य प्रोफेसर ऋषिकेश सिंह ने कल्याणकारी सरकार के दायित्वों एवं उसमें किए जा रहे प्रयासों की चर्चा की । आईआईटी बीएचयू के विशेषज्ञ डॉक्टर शैल शंकर ने व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य को सुदृढ़ बनाने एवं डॉ मनहर चरण ने नैतिक जीवन मूल्य एवं सर्व समाज के कल्याण की परिकल्पना को प्रस्तुत किया।  डॉक्टर सतीश कनौजिया ने मानव समाज में बढ़ती उपभोक्तावादी एवं आरामतलब होती दिनचर्या के दुष्प्रभाव की चर्चा की एवं उनसे बचने के लिए उपाय सुझाए। कृषि विज्ञान संस्थान बीएचयू वाराणसी के मृदा वैज्ञानिक डॉक्टर रामावतार मीना ने किसान बंधुओं से मृदा परीक्षण एवं उसके प्रभावों पर चर्चा की। कार्यक्रम में उन्नत भारत अभियान के तहत संस्थान द्वारा गोद लिए गए गावों के किसान बंधुओ ने प्रतिभाग किया। साथ ही संस्थान के ऐसे छात्र जिनकी ग्रामीण विकास के विभिन्न आयामों में रुचि है उन्होंने भी कार्यशाला में बढ़-कर कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम के अंत में धन्यवाद ज्ञापन सहायक आचार्य श्री विपिन महादेवन द्वारा किया गया। कार्यक्रम के सफल आयोजन में डॉ कौशल कुमार शुक्ला सहित शिक्षक एवं कर्मचारी बंधुओं का विशेष सहयोग रहा।