स्वतंत्र भारत से वरुण सिंह की रिपोर्ट
आजमगढ़ । शहर कोतवाली पुलिस ने ऐसे पांच अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है, जो शहर के अंदर बने कब्रिस्तान के ताले को तोड़ने व उसके अंदर के कब्र को क्षतिग्रस्त करने का कार्य किए थे, इन पांचो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है ।
पूर्व की घटना
अबदुल्लाह S/O मुजीबुल्लाह नदवी निवासी गुलामी का पूरा थाना कोतवाली ने थाना पर सूचना दी कि मैं पूरानी कब्रिस्तान हर्रा की चुंगी रशाद नगर कोतवाली आजमगढ का सचिव हूँ, उक्त कब्रिस्तान में आजमगढ शहर के आवामी शव दफन होता है, मोहल्ले के दिलशाद, शमशाद, नौशाद पुत्रगण  गुलामरसूल उर्फ बड़का व उनके घरों की सभी औरतें एक राय होकर कब्रिस्तान में मे लगे गेट का ताला बार-बार तोड़कर अपना ताला लगा देते है । दिनांक 02.12.2023 को सभी ने कब्रिस्तान की काफी कब्रों को क्षतिग्रस्त करके समतल कर दिया, जिससे आवाम में काफी आक्रोश व धार्मिक भावना को ठेस पहुंची । जब इसकी जानकारी मुझे हुई तो मैं कुछ लोगों के साथ दिलशाद, शमशाद आदि के घर गया जहां उपरोक्त सभी एक राय होकर गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी देने लगे, तथा उल्टे ही झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देने लगे । तहरीर के आधार पर पुलिस ने मु0अ0सं0 686/23 धारा 295/297/504/506/34 भादवि पंजीकृत किया ।
गिरफ्तारी का विवरण
दिनांक 03/12/2023 को उ0नि0 राजेन्द्र प्रसाद पटेल अपने हमराहियों के साथ मु0अ0सं0 686/23 धारा 295/297/504/506/34 भादवि थाना कोतवाली आजमगढ़ से सम्बन्धित अभियुक्तगण 1. शमशाद पुत्र गुलाम रसूल 2. दिलशाद पुत्र गुलाम रसूल 3. दिलशेर पुत्र गुलाम रसूल 4. तमन्ना पत्नी शमशार 5. रूबीना पत्नी दिलशेर निवासीगण गुलामी का पुरा थाना कोतवाली आजमगढ़ को समय 13.15 बजे गुलामी के पुरा से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया