स्वतंत्र भारत पवई से जेके शुक्ला की रिपोर्ट, पवई (आजमगढ़) पवई विकास खंड के रामापुर गांव निवासी प्रमुख समाजसेवी व पूर्व प्रधान संजय पाण्डेय का 46 वर्ष की उम्र में रविवार देर रात आकस्मिक निधन से क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त हो गई । बता दें कि संजय पाण्डेय क्षेत्र के प्रतिष्ठित लोगो में जाने जाते थे। उनके पिता ईश नारायण पांडेय अशरफिया इंटर कालेज माहुल में हिंदी के अध्यापक रहे। शनिवार को गांव में ही एक व्यक्ति के पुत्री के शादी समारोह में वे परिवार सहित सम्मिलित थे। द्वारपूजा के बाद उनकी हालत बिगड़ गई, और उनके दिमाग की नश फट गई। बेहोशी की अवस्था में स्वजन उन्हें संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान लखनऊ ले गए। जहा इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। पूर्व प्रधान संजय पाण्डेय की मौत की खबर जैसे ही क्षेत्रवासियों को हुई शोक की लहर व्याप्त हो गई । उनकी पत्नी उषा दहाड़े मार कर रोने लगी, और उनके तीनो पुत्र बेसुध हो गए।और उनके घर पर शोक संवेदना व्यक्त करने वालों का तांता लग गया। शोक संवेदना व्यक्त करने वालों में लालचंद यादव, जितेंद्र शुक्ला, अखिलेश प्रताप यादव, डा अशेष कुमार पांडेय, बृजेश मिश्र सहित क्षेत्र के हजारों लोग रहे