जनपद संवाददाता प्रदीप कुमार पाण्डेय ।

गाज़ीपुर। अपर जिला अधिकारी ने जनपद वासियों से यह अपील किया है कि शीतल एवं घने कोहरे से बचाव के लिए बच्चे, बुजुर्ग एवं गर्भवती महिलाएं ज्यादा बाहर न निकले ।बहुत आवश्यक हो तभी घर से बाहर जाए ।मोबाइल, व्हाट्सएप ,रेडियो के माध्यम से मौसम की जानकारी प्राप्त करें । सतर्कता ही बचाव है ।शरीर को सुखा रखें। गीले कपड़े कदापि न पहनें। शरीर में ऊष्मा के प्रभाव को बनाने के लिए पोषक आहार एवं गर्म पेय पदार्थ का नियमित सेवन करें। हाइपोथर्मिया के लक्षण जैसे असामान्य शरीर का तापमान ,भ्रम या स्मृति हानी, बेहोशी ,असीमित सुस्ती ,थकान ,तुतलाना आदि स्थिति में सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर संपर्क करें ।उन्होंने बताया कि शीतलहर में गाड़ियों में फॉग लाइट का इस्तेमाल करें। ठंड के मौसम में पशुओं को थनैला मिल्क फीवर नेमोंसटाइटिस आदि रोग होने का खतरा रहता है। अतः कुल मिलाकर शीत और ठंड से अपने आप को बचाएं। पशुओं को भी ठंड से बचाए ।मौसम में जूट की बोरी अथवा घर में पड़ा पुराना कंबल पशुओं पर डाल दें।