जनपद संवाददाता प्रदीप कुमार पाण्डेय।

गाज़ीपुर। जनपद के विकासखंड मोहम्मदाबाद अंतर्गत यूसुफपुर स्थित माता महाकाली मंदिर पर कल शाम लगभग 7 बजे श्रीमद् भागवत कथा अमृत वर्षा का प्रथम दिन आरंभ हुआ। इस अवसर पर श्रीमद् भागवत कथा वाचक साध्वी साधना शास्त्री ने उपस्थित श्रद्धालुओं को बताया श्रीमद् भागवत कथा सुनने से भक्ति ,ज्ञान वैराग्य की प्राप्ति होती है ।आज मनुष्य परेशान है। जबकि इस संसार के संचालक भगवान सबको प्रेम करते हैं। अतः अपने भीतर त्याग की भावना भरकर कलयुग में भागवत कथा सुनना चाहिए। भागवत कथा सुनने से प्राणी को मोक्ष की प्राप्ति होती है। इस संसार में प्रत्येक प्राणी किसी न किसी तरह से दुखों से परेशान है। कोई अस्वस्थ है ।कोई परिवार से दुखी है ।अर्थात यह संसार दुःख का भंडार है ।इस संसार में सभी दुखी है। व्यक्ति को अपने जीवन का कुछ समय हरी भजन में लगाना चाहिए। व्यक्ति को मन, बुद्धि ,चित्त एकाग्र कर अपने आप को ईश्वर के चरणों में समर्पित करते हुए भागवत कथा ध्यानपूर्वक सुना चाहिए। मात्र श्रीमद् भागवत कथा का श्रवण करने से जन्म-जन्म तक के पापों का नाश हो जाता है। श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान, वैराग्य और भक्ति को पुष्ट करता है ।माहा पापियों का उद्धार करता है।