(मुबारकपुर) आजमगढ़ । नगर पंचायत जहानागंज के इस्लामपुरा मुहल्ला निवासी एक व्यक्ति के मकान में शुक्रवार शाम तीन बजे शार्ट सर्किट से ऊपरी तल स्थित कमरे में आग लग गई। उक्त कमरे में चार वर्षीय मासूम सो रही थी, जब तक लोगों को जानकारी होती, और आग पर काबू पाया जाता, तब तक मासूम की झुलस कर मौत हो गई। नगर पंचायत के इस्लामपुर मुहल्ला निवासी खलीलुर्रहमान का दो तल्ला मकान है। शुक्रवार को दिन में परिवार के सभी सदस्य निचले तल पर मौजूद थे। ऊपरी तल पर स्थित कमरे में खलील की चार वर्षीय पोती हेरा पुत्री तारिक सो रही थी। तीन बजे के लगभग अचानक से शार्ट सर्किट के चलते ऊपरी तल के कमरे में आग लग गई। आग इतनी भयावह थी कि कोई आसपास नहीं पहुंच पा रहा था। इस बीच सूचना पर नगर पंचायत का टैंकर पहुंचने पर उसकी मदद से लोगों ने किसी तरह आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक मासूम हेरा की झुलस कर मौत हो चुकी थी और घर में रखा हेल्थ कार्ड, आयुष्मान कार्ड, आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक पासबुक सहित सरकारी दस्तावेज जल कर राख हो गया। मासूम की जलकर मौत से परिजनों में कोहराम मच गया। पिता तारिक बीएसएफ में जवान है, और इन दिनों छुट्टी पर घर आए थे। घटना की जानकारी होने पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। परिजनों ने बच्ची के शव का पोस्टमार्टम न कराने का अनुरोध किया। जिस पर पुलिस ने पंचनामा कर शव को परिजनों को सौंप दिया। परिजनों ने बच्ची के शव को सुपुर्दे खाक कर दिया