अमर सिंह के जन्मदिन पर विशेष

जन्म- 27 जनवरी, 1956, आजमगढ़ का तरवां, उत्तर प्रदेश, मृत्यु- 1 अगस्त, 2020, सिंगापुर) भारतीय राजनीतिज्ञ थे, जिनका सम्बंध देश के राजनीतिक दल समाजवादी पार्टी से रहा था आजमगढ़ । अमर सिंह सिंगापुर से एक वीडियो जारी करते हुए कहे थे, ‘सिंगापुर से मैं अमर सिंह बोल रहा हूं, बिमार हूं, त्रस्त हूं, व्याधि (दिक्कतों) से लेकिन संत्रस्त (डरा) नहीं, हिम्मत बाकी है, जोश बाकी है, होश भी बाकी है, हमारे शुभचिंतक और मित्रों ने ये अफवाह बहुत तेजी से फैलाई है, कि यमराज ने मुझे अपने पास बुला लिया है, ऐसा बिल्कुल नहीं है, मेरा इलाज चल रहा है, और मां भगवती की कृपा हुई तो अपनी शल्य चिकित्सा के उपरांत शीघ्र-अतिशीघ्र दोगुनी ताकत से वापस आऊंगा’, उन्होंने आगे कहा था कि- ‘आप लोगों के बीच सदैव की भांति…जैसा भी हूं, जो भी हूं आपका हूं, बुरा हूं तो अच्छा हूं तो…अपनी चिरपरिचित शैली, प्रथा और परंपरा के अनुकूल जैसे अब तक जीवन जिया है, वैसे ही आगे भी जिऊंगा’हम बात कर रहे हैं उद्योगपति रहे व यूपी के सियासत में अपना स्थान रखने वाले अमर सिंह का आज उनका जन्मदिन है, अमर सिंह का जन्म 27 जनवरी, सन 1956 को यूपी के जिला आजमगढ़ के तरवां में हुआ था, वह उत्तर प्रदेश से राज्य सभा के सांसद थे, 5 जुलाई, 2016 को उन्हें उच्च सदन के लिए चुना गया था, समाजवादी पार्टी से अलग होने के बाद उनकी सक्रियता कम हो गई थी, हालांकि, बीमार होने से पहले तक उनकी करीबियां भारतीय जनता पार्टी से बढ़ रही थीं, उनके राजनीतिक सफर की शुरुआत 1996 में राज्य सभा का सदस्य चुने जाने के साथ ही हुई थी, इससे पहले अमर सिंह 2002 और 2008 में भी राज्य सभा के लिए चुने जाते रहे, पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के अलावा मेगास्टार अमिताभ बच्चन के परिवार से भी अमर सिंह के बेहद करीबी रिश्ते रहे थे, पिछले कुछ सालों में इन रिश्तों में खटास जरूर आई थी, एक समय मुलायम सिंह यादव के खास कहे जाने वाले अमर सिंह साल 2017 के पहले ही पार्टी से किनारे लगने लगे थे, समाजवादी पार्टी में शिवपाल यादव और अखिलेश यादव के आपसी मनमुटाव में अखिलेश यादव ने अमर सिंह को जिम्मेदार माना, कई बार अमर सिंह की आलोचना भी की, बाद में अमर सिंह भी भाजपा के कार्यक्रमों में नजर आने लगे, उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े संगठन को अपने पूरी संपत्ति दान की थी, अमर सिंह ने हिन्दी फ़िल्म ‘हमारा दिल आपके पास है’ (2000) में लघु अभिनय किया था, इसके अतिरिक्त शैलेन्द्र पाण्डे द्वारा निर्देशित आगामी फ़िल्म ‘जेडी’ में भी उन्होंने एक राजनीतिज्ञ का अभिनय किया था, अमर सिंह का निधन 1 अगस्त, 2020 को सिंगापुर में हुआ, वे करीब छह महीने से किडनी की बीमारी से जूझते रहे, सिंगापुर में ही उनका इलाज चल रहा था, साल 2013 में अमर सिंह की किडनी फेल हो गई थी, इसके बाद उनकी किडनी ट्रांसप्लांट की गई थी, अमर सिंह का मार्च, 2020 में एक वीडियो खूब चर्चा में रहा था, जिसमें उन्होंने अपनी मौत की अफवाहों पर विराम लगाते हुए स्पष्ट किया था कि वह ठीक हैं और बीमारी से जूझ रहे हैं। उन्होंने अपने पहले के अनुभवों को साझा करते हुए कहा था कि- ‘टाइगर अभी जिंदा है’, उनकी तबीयत पहले भी बिगड़ी थी, लेकिन हर बार वह मौत के मुंह से लड़कर वापस आ गए थे ।