(मुबारकपुर) आजमगढ़ । पुलिस अधीक्षक ने जिले के अति संवेदनशील थानों में शामिल मुबारकपुर थाना की जिम्मेदारी मेरे सुपुर्द की है तो मेरा हर संभव प्रयास होगा कि यहां की संवेदनशीलता और शांति व्यवस्था पर कोई दाग न लगने पाए, और कप्तान साहब की मुझसे जो अपेक्षाएं हैं, उसे शत प्रतिशत पूरा किया जाए। मेरी पूरी कोशिश होगी कि लोगों को भयमुक्त करते हुए इस थाने को एक अपराध मुक्त थाना बना दिया जाए। उक्त विचार नवागत थानाध्यक्ष निहार नन्दन कुमार के हैं। रविवार को प्रेस प्रतिनिधियों से साक्षात्कार के दौरान उन्होंने कहा कि आप सभी से सहयोग की अपेक्षा करते हुए मेरा अनुरोध होगा कि आप लोग यहां के आम नागरिकों को इस बात के लिए प्रेरित करें कि वो अपनी समस्या लेकर सीधे थाने से संपर्क करें और मध्यस्थता या दलाली के चक्कर में पकड़कर अपना समय और धन दौलत बर्बाद न करें। उन्होंने ये भी कहा कि थाने के अंदर दरबार लगाने वाले चाहे पत्रकार हों या दलाल किसी भी कीमत पर कबूल नहीं हैं। कानून व्यवस्था पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने कहा कि इससे पहले आजमगढ़ व मऊ जनपद के विभिन्न थानों की जिम्मेदारी संभाल चुका हूं, मेरी सोच है कि मुबारकपुर कस्बा जो अति संवेदनशील होने के साथ ही रेशमी नगरी भी है और यहां के लोग बहुत ही साधारण एवं मिलनसार व्यक्तियों में शुमार किए जाते हैं वह बराबर देखने को मिल रहा है। 
 अगर कहीं किसी तरह कि घटना होने कि संभावना, दुर्घटना, अमन चैन में खलल डालने कि जानकारी हो तो जरूर साझा करें। सयम रहते पुलिस का चाबुक चलेगा। चौकी प्रभारी कस्बा संजय कुमार सिंह एवं सठियांव चौकी इंचार्ज अखिलेश आदि दरोगाओं का परिचय करते उन्होंने कहा कि यहां के भौगोलिक परिस्थितियों से इन लोगों के द्वारा अध्ययन संकलन किया जा रहा है मेरी कोशिश होगी कि इसमें कुछ और निखार लाते हुए कानून व्यवस्था को और धारदार बनाया जाएगा।