आजमगढ़ । सगड़ी तहसील क्षेत्र के पूनापार बड़े गांव में स्थित सौदागर सिंह इंटर कॉलेज के प्रांगण में 1962 चीन युद्ध के हीरो रहे प्रथम वीर चक्र विजेता व 1965 में पाकिस्तान युद्ध के दौरान शहीद हुए अमर शहीद सौदागर सिंह की पुण्यतिथि बड़े ही धूमधाम के साथ मनाई गई । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आजमगढ़ भाजपा के जिला प्रभारी अशोक सिंह रहे, व संचालन ज्ञानेंद्र मिश्रा ने किया । मुख्य अतिथि भाजपा के जिला प्रभारी अशोक सिंह ने प्रथम वीर चक्र विजेता सौदागर सिंह को याद करते हुए कहा कि आजमगढ़ की धरती धन्य है, जिसने ऐसे वीर सपूत को जन्म दिया। उन्होंने कहा कि आज पूरा जनपद प्रथम वीर चक्र विजेता सौदागर सिंह को याद करते हुए श्रद्धांजलि दे रहा है, आज हम ऐसे वीर सपूतों के अदम्य वीरता के कारण सुरक्षित हैं । कहा कि जब 1962 में चीन के साथ युद्ध हो रहा था, तो आजमगढ़ के सपूत जो बड़े गांव पूनापार के रहने वाले शाहिद सौदागर सिंह ने लगभग दर्जन पर चीनी फौजियों को मार करके एसएलआर जैसे अत्याधुनिक हथियार को कई दिन भूखे प्यासे पैदल चलकर के लेकर आए थे, और उसे समय के प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति को भेंट किया था । अशोक सिंह ने कहा कि आज हमारा देश काफी मजबूत हुआ है, और हमारा पड़ोसी दुश्मन भारत की तरफ आज भी उठाकर नहीं देख सकता । कार्यक्रम को सगड़ी की पूर्व विधायक वंदना सिंह, भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष जयनाथ सिंह, प्रवीण सिंह, अजमतगढ़ के ब्लॉक प्रमुख मनीष मिश्रा आदि ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया । इस मौके पर भाजपा नेता दिवाकर सिंह, जयप्रकाश सिंह, विवेक उर्फ सोनू सिंह, भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष जयनाथ सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष ध्रुव कुमार सिंह, भाजपा की वरिष्ठ नेता अरविंद जायसवाल, वेदांत स्कूल के प्रबंधक शिव गोविंद सिंह, पूर्व विधायक वंदना सिंह के प्रतिनिधि मास्टर नागेंद्र यादव, अनिरुद्ध तिवारी, महावीर सिंह, आनंद प्रकाश तिवारी सहित सैकड़ो लोगों ने वीर सपूत सौदागर सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित किया । वहीं शाहिद सौदागर सिंह की पौत्रवधू अंजना सिंह ने आए हुए सभी आगत जनों का स्वागत करते हुए आभार व्यक्त किया ।