बुधवार को अवैध असलहा बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़, अवैध असलहा व उपकरण के साथ 4 हो चुके हैं गिरफ्तार

रिपोर्ट, विभव उपाध्याय, उर्फ शिबू 

आजमगढ़ के अहरौला थाना क्षेत्र में बुधवार की देर रात रात और शुक्रवार की सुबह पुलिस के साथ हुए दो अलग अलग स्थान क्षेत्र में मुठभेड़ में दो शातिर बदमाशों के पैर में गोली लगी है, इस दौरान अभियुक्तों के कब्जे से एक कार्बाइन, दो असलहे व कारतूस बरामद पुलिस किया है, एसपी अनुराग आर्य के  मुताबिक एक दिन पूर्व महाराजगंज थाना क्षेत्र के इब्राहिमपुर में अवैध शस्त्र फैक्ट्री का पुलिस ने भंडाफोड़ किया था, उसी उक्त मुकदमें में बीती रात को फरार अभियुक्तों से पुलिस की मुठभेड़ हुई अहरौला थाना के मोतीपुर पुलिया के पास मुठभेड़

हुई, जिसमें कप्तानगंज थाना क्षेत्र का निवासी और थाना का हिस्ट्री शीटर प्रवीण कुमार पांडे उर्फ़ मन्नू पांडे के दोनों पैर में गोली लगी है, उसके पास से एक कार्बाइन 32 बोर, एक पिस्टल 32 बोर, और एक चोरी की बाइक बरामद हुई है, इसके ऊपर 30 मुकदमें दर्ज हैं, पुलिस पता लगाने में जुटी है कि कार्बाइन इसको कहां से मिली इसके अलावा वहीं से राजीव कुमार गौतम को भी गिरफ्तार किया गया है, वहीं दूसरी मुठभेड़ इब्राहिमपुर थाना अहरौला में सुबह हुई, जहां अंबेडकर नगर के जहांगीरगंज के निवासी अपराधी अभिषेक यादव के पैर में गोली लगी है और उसके पास से भी असलहा कारतूस बरामद किया है, पुलिस को जानकारी मिली है कि आजमगढ़ के अलावा गाजीपुर मऊ व अंबेडकर नगर में असलहा सप्लाई का कार्य करते थे,  वहीं पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने पूरी पुलिस टीम को 25 हजार का इनाम दिया गया है ।

बता दें कि बुधवार को महराजगंज पुलिस ने अवैध असलहा बनाने की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए, भारी संख्या में अवैध असलहा व असलहा बनाने के उपकरण के साथ 4 अभियुक्तों को गिरफ्तार करने सफलता पाई है । जानकारी के मुताबिक प्रभारी निरीक्षक कृष्ण कुमार गुप्ता अपने हमराहियों के साथ सहदेवगंज तिराहे पर मौजूद थे कि इतने में स्वाट टीम के उ0नि0 श्रीप्रकाश शुक्ला अपने  हमराहियों के साथ मिले, जो अपराध व अपराधियों के सम्बन्ध में बातचीत कर रहे थे । कि इतने में मुखबिर ने सूचना दिया कि कुछ लोग ग्राम इब्राहिमपुर में घाघरा नदी की अर्धनिर्मित पुलिया के नीचे अवैध असलहा बनाने व बेचने का कार्य कर रहें है, और अगर जल्दी किया जाये, तो वे लोग पकड़े जा सकते हैं। इस सूचना पर थाना क्षेत्र में भ्रमणशील द्वितीय मोबाईल के उ0नि0 शैलेश यादव मय हमराह को बुलाया गया, और प्रभारी निरीक्षक महराजगंज व स्वाट टीम के साथ मुखबिर के बताये गये, स्थान अर्धनिर्मित पुलिया के  पास पहुंचे तो, देखा कि से असलहा बना रहे 07-08 व्यक्ति मौजूद हैं । यही नहीं अर्धनिर्मित पुलिया के मध्य में मौजूद 02 आदमी लोहा भट्ठी गरम कर रहें थे, तथा 02 व्यक्ति रेती से पाइप हाथ में लेकर रेत रहा है। 01 व्यक्ति हाथ में तमंचा लेकर 03 व्यक्तियों को तमंचा दिखाकर सौदेबाजी कर रहा है। इसके बाद पुलिस ने मौके से 02 व्यक्तियों को पकड़ लिया तथा अन्य व्यक्ति देवारा व गन्ना तथा झुरमुट का फायदा उठाकर भागने लगे, जिन्हे उ0नि0 शैलेश यादव मय हमराह ने कुछ ही दूरी पर 02 व्यक्तियों को पकड़ लिया, तथा शेष 04 व्यक्ति मौके से फरार हो गये । पकड़े गये व्यक्तियों में बिजराज विश्वकर्मा पुत्र रामकेश विश्वकर्मा निवासी त्रिपुरारपुर खालसा थाना महराजगंज, मोती विश्वकर्मा पुत्र रामनाथ विश्वकर्मा निवासी मुहम्बतपुर थाना मुबारकपुर, संजय उर्फ रविन्द्र यादव पुत्र स्व0 उदयराज यादव निवासी कुड़ही थाना महराजगंज, संजय कुमार पुत्र रामनाथ राम निवासी देवारा हरखपुरा थाना महराजगंज आजमगढ़ शामिल हैं । इस दौरान पुलिस ने मौके से अवैध असलहा- कारतूस के साथ असलहा बनाने की सामग्री/उपकरण जैसे 09  देशी निर्मित तमंचा 315 बोर, 02 अर्धनिर्मित तमंचा 315 बोर, 01 जिंदा कारतूस 315 बोर, व असलहा बनाने के उपकरण (विभिन्न साईज की 6 रेती, 3 सुम्भी लोहे, 3 लोहे की पाईप, 20 लोहे की कील, 2 छेनी लोहे की, 7 प्रिंग लोहे की, 2 लोहे की सरसी, 1 लोहे का पिलास, लोहे की चादर के टुकड़े, 6 लोहे का फर्मा, 01 तार लोहे का व भट्ठी बरामद किया था, उक्त मुकदमें में वांछित अपराधी फरार चल रहे थे ।