शिकायत पर डीएम ने नवम्बर में ही डा. डी बी सिंह द्वारा संचालित सोनो ग्राफि लाईसेंस निरस्त कर दिया था, एसडीएम और डिप्टी सीएमओ के पहुंचते ही सेंटर के कर्मचारी फरार हो गए थे 
रिपोर्ट, टीपी श्रीवास्तव 
(सगड़ी) आजमगढ़ । जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज के आदेश पर एसडीएम सगड़ी, डॉक्टर अतुल गुप्ता और डिप्टी सीएमओ उमाशरण पांडेय की मौजूदगी में जीयनपुर डाक बंगला के पास अवैध रूप से संचालित कृष्ण सोनोग्राफी सेंटर को शुक्रवार को सील कर दिया गया। पुलिस, एसडीएम और स्वास्थ्य विभाग की गाड़ी देखते ही कर्मचारी पिछले रास्ते से फरार हो गए। मौका पाकर मरीज भी खिसक लिए। लगभग एक घंटे चली कार्यवाही के दौरान काफी संख्या में आसपास के लोग मौजूद रहे। जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज ने 2 फरवरी 2024 को को उपजिला मजिस्ट्रेट सगड़ी और स्वास्थ्य विभाग को आदेशित पत्र में कहा कि डॉ डी बी सिंह द्वारा जनपद में दो सोनोग्राफी केंद्र के अलावा कृष्णा सोनोग्राफी सेंटर जीयनपुर संचालित किया जा रहा है। जिसके संचलन का लाइसेंस 28 नवंबर 2023 को निरस्त कर दिया गया है। ऐसे में इस सोनोग्राफी सेंटर को तत्काल सील किया जाए।
जिलाधिकारी के आदेश पर शुक्रवार को दोपहर उपजिलाधिकारी सगड़ी व डिप्टी सीएमओ उमाशंकर, चिकित्सक प्रदीप कुमार, कोतवाली प्रभारी जीयनपुर विवेक पांडेय सोनोग्राफी सेंटर पहुंचे। इस दौरान  कर्मचारी मौका देखकर फरार हो गए। जांच के लिए 26 मरीजों की पर्ची काटी गई थी। वह मरीज भी धीरे-धीरे खिसक लिए। इसी प्रकार बिलरियागंज में भी की गयी छापे मारी के  दौरान कमला सोनो ग्राफि को सील किया गया इस दौरान भारी संख्या में आसपास के लोग मौजूद रहे।