स्वतंत्र भारत से पंकज पांडे की रिपोर्ट

आजमगढ़ ‌। रानी की सराय थानाध्यक्ष प्रदीप कुमार मिश्रा व उनके हमराहियों व स्वाट टीम प्रभारी निरीक्षक नन्द कुमार तिवारी को तकनीकी रूप से सूचना मिली कि एक डीसीएम गाड़ी पंजाब से अग्रेजी शराब की गाड़ी लखनऊ की तरफ से आ रही है, जो बिहार जायेगी । यदि शीघ्रता की जाए तो पकड़ा जा सकता है। इस सूचना पर तत्काल थानाध्यक्ष मय हमराह व स्वाट/ सर्विलांस टीम के साथ रूदरी मोड़ से टीम के साथ प्रस्थान कर इन्वर्सल पब्लिक स्कूल रोवा के पास एक डीसीएम गाड़ी टाटा अल्ट्रा नम्बर UP57AP8849 को रोक कर ड्राइवर से नाम पता पूछा गया तो अपना नाम संदीप गौतम पुत्र रामलाल गौतम निवासी बनबहा देवीगंज थाना महराजगंज जिला जौनपुर बताया । डीसीएम अल्ट्रा में टोस्ट के 327 डिब्बों में छिपाकर 623 पेटी में 19452 शीशी पंजाब की अंग्रेजी शराब (कीमत लगभग 55 लाख रूपये) जिसमें 250 पेटी में 12 हजार शीशी 180ML, 248 पेटी में 375ML व 125 पेटी में 1500 शीशी 750 ML की शीशी बरामद हुई है तथा अभियुक्त के कब्जे से 04 हजार रूपये नगद तथा वाहन व माल के फर्जी कागजात व मोबाइल बरामद किया गया है।
पूछताछ का विवरण 
गिरफ्तार अभियुक्त ने बताया कि हम लोग पंजाब से कम दामों पर शराब खरीद कर चोरी छिपे बिहार ले जाकर महगें दामों पर विक्री करते है जिससे काफी पैसा मिलता है। अपनी व गाड़ी की पहचान छिपाने के लिए व पुलिस से बचने के लिए बीच-बीच मे ड्राइवर व नम्बर प्लेट  बदलते रहते है। तथा गाड़ी से माल चेक करने पर तीन लेयर टोस का पैकेट का रेक पिछे तथा ऊपर लगा देते है। जिससे गाड़ी चेक करने पर पकड़ी न जाये तथा माल की फर्जी विल्टी भी रखते है।