चितबड़ागांव बलिया । नगरपंचायत कार्यालय में विगत चार दिनों से चल रहा तालाबंदी जारी रहा। नगरपंचायत चितबडागांव के 12 सभासदों ने सोमवार को नगरपंचायत चितबडागांव तैनात अधिशासी अधिकारी अनिल कुमार के विरुद्ध तीन सदस्यीय समिति के द्वारा करोड़ों रुपए फर्ज़ी भुगतान मामले दोषी सिद्ध होने के बाद अब कार्रवाई नहीं होने व नगरपंचायत कार्यालय से महीनों नदारद चल रहे कार्यलय नहीं आने से जन्म प्रमाण पत्र मृत्यु प्रमाण पत्र दाखिल खारिज सहित अन्य कार्यों में लेट लतीफी की शिकायत करते हुए सोमवार की तालाबंदी कर दिया था ् जिसके चलते नगरपंचायत का माहौल एक बार फिर गर्मया हुआ है। जिसके चलते पुरे नगरपंचायत में योगी आदित्यनाथ जी की नेतृत्व वाली सरकार के जीरो टॉलरेंस नीति वादे की दुहाई देते हुए कह रहे हैं कि नगरपंचायत में त्रिपल इंजन की सरकार में करोड़ों रुपए फर्ज़ी भुगतान दोषी करार दिए गए अधिकारी पर कार्यवाही नहीं होने से सरकार को कोसते नज़र आये।
लोगों का कहना है कि केंद्र में भाजपा सरकार प्रदेश में भाजपा सरकार अध्यक्ष व कर्मचारी भी भाजपा के फिर भी दोष सिद्ध अधिशासी अधिकारी के ऊपर अब तक कोई कार्रवाई नहीं इसमें विभागीय अधिकारियों के अनदेखी स्पष्ट झलक रही है। इस मामले के विषय में तरह-तरह से कयास लगाए जा रहे हैं ।