बलिया। राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस के अवसर पर आज दिनांक – 10/02/24/ दिन शनिवार इंडियन रेड क्रॉस सोसाइटी बलिया के द्वारा कम्पोजिट उच्चतर प्राथमिक विद्यालय इन्दिरा नगर क्षेत्र बलिया
स्थित विद्यालय में बच्चों को अल्वेंडाजोल की दवा खिला कर अभियान की शुरुआत मुख्य चिकित्सा अधिकारी/ उपाध्यक्ष द्वारा किया गया।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. विजय पति द्विवेदी ने बताया कि एक वर्ष से 19 वर्ष के सभी बच्चों,किशोर-किशोरियों की आंत में कृमि संक्रमण का खतरा रहता है। कृमि मनुष्य की आंत में रहते हैं और जीवित रहने के लिए मानव शरीर से जरूरी पोषक तत्व खाते रहते हैं। यह कृमि संक्रमण अस्वच्छता के कारण फैलते हैं। संक्रमित मिट्टी के संपर्क में आने पर कृमि संक्रमण संचारित होता है। कृमि को पेट से निकालने के लिए दवा अवश्य खानी चाहिए। उन्होंने बताया कि कृमि पोषण उत्तकों से भोजन लेते हैं जैसे रक्त, जिससे खून की कमी हो जाती है। कृमि के कारण कुपोषण का खतरा और शारीरिक विकास पर प्रतिकूल असर पड़ता है।
अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अशोक कुमार ने कहा कि जो बच्चे पहले से बीमार है या अन्य कोई दवा ले रहे हैं उन्हें एल्बेंडाजोल नहीं खिलाई जाएगी। बताया कि किन्हीं कारण बस दवा खाने से वंचित बच्चों को मॉप आप दिवस 15 फरवरी को दवा खिलाई जाएगी।
इस अवसर पर प्रमुख रूप से डॉ राकिफ अख्तर, डॉ अभिषेक मिश्रा, डॉ आरबी यादव (डी पी एम), विजय कुमार शर्मा (उप-सभापति),सरदार जितेंद्र सिंह, सरदार सुरेंद्र सिंह खालसा, डॉ पंकज ओझा, शैलेश श्रीवास्तव,अविनाश पाण्डेय (डब्लू एच ओ)सभासद सूरज तिवारी, नीशु राय, रेखा पाण्डेय, बिन्दु सिंह, सीमा प्रसाद, गीता देवी, देमयंती देवी आदि लोग मौजूद रहे।