(अतरौलिया) आजमगढ़ । स्वास्थ्य विभाग की पहल पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र द्वारा नगर में घर घर जाकर आशा कार्यकर्ती फाइलेरिया की दवा खिला रही है, यह फाइलेरिया उन्मूलन की दिशा में एक महत्वपूर्ण पहल है। तीन आशा कार्यकत्री पवित्रा, कुमकुम, सुनीता की एक टीम गठित की गई है, जो नगर पंचायत में घर घर जाकर दवाई खिला रही है । इस काम का मॉनिटरिग स्वास्थ्य अधीक्षक द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि किसी भी परिस्थिति में फाइलेरिया की दवा खिलाई जानी है, और जिले से फाइलेरिया को पूर्णत: समाप्त करना है । उन्होंने कहा कि इस दवा को कोई भी नुकसान नहीं होता है । सभी लोग इस दवा का सेवन करें। दवा खाने से फाइलेरिया से होने वाली बीमारी से बचा जा सकता है। उन्होंने बताया कि फाइलेरिया की रोकथाम के लिए पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा अनुशंसित दो दवाओं की नीति अपनाई जाती थी।