आजमगढ़ । रौनापार थाना क्षेत्र के एक भट्टे पर बंधक बनाकर मजदूरों से कार्य करने की सूचना पर पहुंची थाना एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकंग यूनिट व श्रम विभाग की संयुक्त टीम व नायब तहसीलदार सगड़ी ने छापा मारकर कुल आठ महिला पुरुष मजदूरों को ईंट भट्ठा मालिक के चंगुल से मुक्त कराया । जानकारी के मुताबिक दिनांक 12.02.2024 को  उपश्रमायुक्त विशाल कुमार आजमगढ़ द्वारा प्रभारी निरीक्षक थाना एएचटीयू को जरिये दूरभाष सूचना दी गयी, कि थाना क्षेत्र रौनापार के बनावे बाजार गोसाई में मेसर्स सतविजय ईंट/भठ्ठा पर कुछ मजदूरों को ईंट/भठ्ठा मालिक संजय यादव द्वारा बन्धक बनाकर मजदूरी कराया जा रहा है । उक्त सूचना पर थाना एण्टी ह्यूमन ट्रैफिकंग यूनिट व श्रम विभाग की संयुक्त टीम व नायब तहसीलदार सगड़ी आजमगढ़ द्वारा बनावे बाजार गोसाई थाना क्षेत्र रौनापार जनपद आजमगढ़ पहुंच कर सतविजय ईंट/भठ्ठा से कुल 08 महिला/पुरुष मजदूरों को बन्धुआ श्रम से मुक्त कराया । इसके बाद अवमुक्त कराये गये महिला/पुरुष मजदूरों को ईंट/भठ्ठा मालिक द्वारा मजदूरी व किराया-भाड़ा कुल 15000/- रुपये नगद दिलवाया गया तथा निजी वाहन से उक्त मजदूरों को उनके घर बिलासपुर छत्तीसगढ़ वापस भेजा गया । मौके पर उपश्रमायुक्त द्वारा उक्त ईंट/भठ्ठा मालिक संजय यादव पुत्र राधेश्याम नि0 ओरा पोस्ट भीमबर तहसील सगड़ी जनपद आजमगढ़ के विरुद्ध अधिनियम का उल्लंघन करने के संबंध में नोटिस जारी किया गया ।