रिपोर्ट श्याम सिंह 

माहुल (आजमगढ़)। विकास खंड अहरौला के ग्राम पंचायत रसूलपुर अहमद अली में निर्माणाधीन आरआरसी सेंटर में घटिया निर्माण सामग्री का प्रयोग धड़ल्ले से किया जा रहा। निर्माण कार्य में इस व्यापक अनियमितता को देखते हुए भी ब्लाक स्तरीय कर्मचारी और अधिकारी कुंभकर्णी नीद में सो रहे। स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत सरकार द्वारा गावों में ठोस कचरा प्रबंधन के लिए हर ग्राम सभा में स्वच्छता संसाधन केंद्र(आरआरसी सेंटर)का निर्माण कराया जा रहा। इसके माध्यम से गावों में घरों से निकलने वाले कूड़े कचरे और प्रदूषणकारी अपशिष्ट को इस केंद्र में एकत्र कर इसे समय आने पर निस्तारित किया जाएगा। इसी मिशन के तहत रसूलपुर अहमद अली गाँव में भी तीन लाख दस हजार की लागत से आरआरसी सेंटर का निर्माण कराया जा रहा। इस सेंटर में चार वर्मी कंपोस्ट,एक शौचालय एक पानी की टंकी आफिस और कूड़ा रखने के लिए छः टैंक का निर्माण कराया जा रहा। निर्माण कार्य का आलम यह है कि इसके ठेकदार द्वारा घटिया ईट,घटिया सफेद बालू और घटिया सीमेंट का प्रयोग धड़ल्ले से हो रहा। यही नहीं फाउंडेशन में सरिया भी मानक के अनुरूप निर्माण इकाई द्वारा नही लगाई। इसकी शिकायत ग्रामवासियों द्वारा कई बार ब्लाक स्तरीय अधिकारियों और कर्मचारियों से की गई पर कोई कार्यवाही नहीं की गई। इस संबंध में खंड विकास अधिकारी अहरौला आलोक कुमार का कहना है मामला संज्ञान में नहीं है। अगर ऐसा हो रहा तो जांच कर कठोर कार्यवाही की जाएगी।।