उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती परीक्षा में पेपर लीक होने की कारण सरकार ने यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा को रद्द कर दिया है, सरकार ने फैसला लिया है कि 6 माह के अंदर दूसरी बार परीक्षा कराई जाएगी,
उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती परीक्षा में 60244 पद थे, जिसके लिए 17 और 18 फरवरी को 75 जिला में हुई परीक्षा के दौरान कुल 48 लाख से ज्यादा छात्र शामिल हुए थे ।
बता दें कि यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा के दौरान हुए पेपर लिख के मामले में पुलिस इंस्पेक्टर ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया है, बता दें कि 18 फरवरी को आयोजित परीक्षा के दौरान कृष्णानगर स्थित एक स्कूल में परीक्षार्थी सत्य अमन कुमार के पास मिले सवालों के जवाब की पर्ची से पेपर लीक होने की आशंका व्यक्त की जा रही है, पकड़े गए परीक्षार्थी को सवालों के जवाब व्हाट्सएप पर भेजने वाले आरोपी नीरज को अब तक पुलिस नहीं पकड़ पाई है, आरोपी नीरज को प्रश्नों की जानकारी कहां से मिली, यह अहम सवाल बना हुआ, जानकारी के मुताबिक कृष्णानगर के अलीनगर सुनहरा स्थित सिटी मॉडर्न एकेडमी स्कूल में 18 फरवरी को दूसरी पाली में पुलिस भर्ती परीक्षा हो रही थी, इस दौरान पुलिस इंस्पेक्टर रामबाबू, सिंचाई विभाग के जेई व स्टेटिक मजिस्ट्रेट अम्बरीश कुमार वर्मा, लोक निर्माण विभाग के जई व केंद्र व्यवस्थापक प्रियंका सोनी ड्यूटी पर थी, तभी शाम 4:55 बजे कक्ष संख्या 24 की निरीक्षक वंदना कनौजिया व विश्वनाथ सिंह ने सूचना दी, कि परीक्षार्थी सत्य अमन कुमार पर्ची से नकल कर ओएमआर शीट भर रहा है, जब अभ्यर्थी की तलाशी ली गई, तो उसके पास से विभिन्न सवालों की पर्चियां बरामद हुई, पूछताछ में सत्य अमन ने बताया कि उसे 12 बजे के आसपास ही उसके मित्र नीरज ने व्हाट्सएप पर सवालों के जवाब भेजे थे, इंस्पेक्टर रामबाबू ने बताया कि, जब परीक्षा केंद्र के स्ट्रॉन्ग रूम में रखा अभ्यर्थी का मोबाइल चेक किया गया तो उसके व्हाट्सएप पर दोपहर 12: 56 बजे नीरज के नंबर से हाथ से लिखे गए उत्तर भेजे गए थे, इनका मिलान परीक्षा केंद्र पर बांटे गए प्रश्नपत्र से करने पर पता चला कि व्हाट्सएप पर भेजे गए सभी उत्तर प्रश्नपत्र से मेल खा रहे हैं, इसके बाद इंस्पेक्टर रामबाबू की तहरीर पर कृष्णानगर थाने में 19 फरवरी को परीक्षार्थी सत्य अमन कुमार और नीरज के खिलाफ केस दर्ज किया गया, पुलिस ने सत्य अमन को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया, लेकिन अब तक नीरज की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है, वह फरार चल रहा है।