(मार्टिनगंज) आजमगढ़ । दीदारगंज थानाक्षेत्रदारगंज थाना क्षेत्र के चितारामहमूदपुर गांव के बिछियापुर पुरवा निवासी वीरेंद्र यादव पुत्र बिंदु प्रश्र उदय राज यादव पेसे से ट्रक ड्राइवर था, 10 दिन पहले ट्रेलर चलाने के लिए घर से गया था, 2 मार्च शाम करीब 7:00 बजे बालू लदा ट्रेलर लेकर के सुरहन गांव में स्थित पेट्रोल पंप पर गाड़ी खड़ी करके खलासी को लेकर के मार्टिनगंज बाजार में ढाबे पर खाना खाने गया, खाना खाने के बाद खलासी को ट्रक में सोने को कहकर अपने घर जा रहा हूं बात कर बिछियापुर के लिए रवाना हो गया । रविवार की सुबह सरायमीर थाना क्षेत्र के नोनारी गांव निवासी ट्रेलर मालिक मोहम्मद सद्दाम ड्राइवर वीरेंद्र यादव के घर पहुंच करके पूछा कि वीरेंद्र कहां है, टेलर में बालू लदा है, उसे खाली करना है । पेट्रोल पंप पर क्यों खड़ी है, पत्नी ने बताया कि वह घर आए ही नहीं, परिजनों ने आशंका बस इधर-उधर खोजबीन शुरू की लेकिन दोपहर 12:00 बजे तक कुछ पता नहीं चल पाया । दोपहर में ही गांव की कुछ महिलाएं बनगांव माइनर से 100 मीटर दूरी पर अपना सरसों के खेत देखने के लिए गई थी, सरसों के खेत में ही मुंह के बगल लेटी हुई लाश देकर के शोर मचाया । ग्रामीणों ने जब जाकर के लाश को पलटा तो वह लाश वीरेंद्र यादव उर्फ बिंदु की के रूप में पहचान हुई । मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों को हटाकर के लाश कब्जे में लेकर के पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया । पत्नी उषा का रो रो कर बुरा हाल है, मृतक के मां-बाप पहले ही मर चुके हैं । मृतक के पास कोई भाई-नहीं था, मृतक के पास तीन बच्चे आदित्य, अंश और अभिनव हैं । वीरेंद्र ही अपने घर का  रोजी-रोटी का सहारा था, वही परिजनों ने हत्या की असंका जताते हुए थाने मे तहरीर दे दी है, खबर लिखे जाने तक मुकदमा दर्ज नही हुआ था ।