रसड़ा (बलिया) विद्या मंदिर को याद करते मैं भाव विभोर हूँ। उन्होंने कहा कि मेरी 6,7,8 की शिक्षा इसी विद्या मंदिर में हुई है यहां के गुरुजनों को सम्मानित करते हुए मुझे गर्व महसूस हो रहा है। यह बाते अमर शहीद भगत सिंह इन्टर कालेज मे अगामी आने वाले लोक सभा चुनाव को लेकर पूर्वाचल भ्रमण व अपने दौरा के दौरान, क्रम मे नगर विकास एवं ऊर्जा मंत्री ए .के. शर्मा जी ने व्यक्त की। नगर विकास व ऊर्जा मंत्री ने रसड़ा मे रविवार को लगभग 1:00 बजे रसडा़ के श्रीनाथ मठ पर पहुंचे वहां उन्होंने श्रीनाथजी का मठ महंत कौशलेंद्र गिरी के साथ पूजा की और माला पुष्प अर्पित करने व माथा टेकने पश्चात नगर पालिका परिषद कार्यालय रसडा़ पहुंचे और नपा के कराये कार्यो के नगर मे पांच शीलापट्टो का लोकार्पण की नगर पालिका कार्यालय में नपा अध्यक्ष ने बुके फूल माला से स्वागत किया गया, तदोपरान्त अमर शहीद भगत सिंह इंटर कॉलेज पहुंचे जहां कॉलेज प्रशासन ने उनका स्वागत किया फिर मंत्री जी ने अपने गुरुजनों का अंग वस्त्र माल्यार्पण से स्वागत कर आशीर्वाद प्राप्त किया वही सम्मानित भी हुए आगे के कार्यक्रम के लिए प्रस्थान टिकादेवरी के लिए चल दिए जहां विभिन्न कार्यक्रम में भाग लेना था।मंत्री जी के आगमन पर श्रीनाथ मठ के मंहन्थ कौशलेंद्र गिरी, नगर पालिका के अध्यक्ष विनय शंकर जायसवाल,नगर के राजेश कुमार,रमेश सिंह एवं बीजेपी के स्थानीय नेताओं ने स्वागत किया। मंत्री जी के आने से पूर्व नगर के विभिन्न चौराहों एवं नगर पालिका कार्यालय व विद्युत उपकेंद्र कार्यालय को सुंदर ढंग से सजाया गया था विभाग के कर्मचारी उनके स्वागत के लिए सक्रिय दिखे।
मंत्री जी के आगमन पर विद्युत वितरण उपकेंद्र को बड़े सुन्दर ढंग से सजाया गया था। वहीं उपकेन्द्र् रसड़ा के द्वार पर लगे बोर्ड में लिखे स्लोगन “विद्युत विभाग में विद्युत गति से काम” पर चर्चा करते हुए व्यंग रुप मे नागरिक को बोलते हुए सुनने को मिला, बिल्कुल सही लिखा है क्योंकि मीटर का तीव्र गति से चलना विद्युत बिल मानक से अधिक आना नए कनेक्शन के लिए अतिरिक्त शुल्क देना ट्रांसफार्मर जल जाने पर दसों दिन लगाया जाना ग्रामीण क्षेत्र में फ्यूज उड़ जाने पर लाइनमैन से जुड़वाने पर उपभोक्ताओं से पैसे लिया जाना कोई जिम्मेदार आता है तो इनके सक्रीय होना, स्लोगन का सही उदाहरण है।