रिपोर्ट, वरुण सिंह
आजमगढ़  । प्रख्यात हिंदी कहानीकार मार्कंडेय जी के पुण्यतिथि के मौके पर उनके स्मृति में संवाद गोष्ठी का आयोजन किया गया है । गोष्ठी शिवली कॉलेज के मंजिल सभागार में आयोजित होगी । प्रेस वार्ता के दौरान प्रख्यात हिंदी कहानीकार मार्कंडेय जी की पुत्री व शहर की प्रतिष्ठित चिकित्सक डॉक्टर स्वाति सिंह ने कहा कि मार्कंडेय स्मृति संवाद के अंतर्गत आयोजित इस गोष्ठी का विषय’ मार्कंडेय का कक्षा लोक है’, उन्होंने बताया कि इस विषय पर अपनी बातचीत के लिए हिंदी के विद्वान आजमगढ़ शहर स्थित शिवली कॉलेज के मंजिल सभागार में पधारेंगे, इसमें काशी विद्यापीठ वाराणसी से प्रोफेसर सुरेंद्र प्रताप, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से प्रोफेसर नीरज खरे, मुंबई विश्वविद्यालय से डॉक्टर इन्दीवर तथा टीडी कॉलेज से डॉक्टर सरोज सिंह का आगमन होगा । विद्वान अपनी बातचीत से मारकंडे जी की कहानियां और उपन्यासों के मर्म का उद्घाटन करेंगे, इस दौरान मारकंडे जी की प्रसिद्ध कहानी गूलरा के बाबा का पाठ भी प्रस्तुत किया जाएगा, विदित हो कि मारकंडे जी आजादी के बाद हिंदी कहानी के प्रमुख हस्ताक्षर हैं, हिंदी में प्रेम चंद के बाद पूर्वी उत्तर प्रदेश के गांवों की सच्ची वास्तविक कहानियां लिखने का श्री मार्कंडेय जी को दिया जाता है । मारकंडे की कहानियों में पूर्वांचल को जीवन, समाज, खेत, खलिहान, प्रकृति का जीवन्त वर्णन हुआ है । प्रेस वार्ता के दौरान डॉक्टर स्वस्ति सिंह ने शहर के बुद्धिजीवियों, लेखकों, कलाकारों, पत्रकारों और साहित्य प्रेमियों से इस कार्यक्रम में आने की अपील की।