आजमगढ़ सदर लोकसभा से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे, श्री श्री 108 उमाशंकर महाराज आज पूरे तेवर में नजर आए, उन्होंने प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि भाजपा और सपा जनपद के किसी कार्यकर्ता को प्रत्याशी बनाए, नहीं तो मैं जगह-जगह इन दोनों पार्टियों के उम्मीदवारों का

विरोध करते हुए जनता से वोट मांगूंगा, उन्होंने कहा कि क्या आजमगढ़ में इन दोनों पार्टियों के पास चुनाव लड़ने लायक कोई प्रत्याशी नहीं है, सपा से धर्मेंद्र यादव सैफई, इटावा से आकर चुनाव लड़ रहे हैं, और गाजीपुर से आकर निरहू यादव भाजपा प्रत्याशी के रूप में आकर कर चुनाव लड़ रहे हैं, उन्होंने कहा कि आजमगढ़ ऋषि मुनियों का जनपद रहा है, ऐसे हाल में इन दोनों पार्टियों को सोचना चाहिए कि स्थानीय कार्यकर्ता को टिकट दे, ताकि कार्यकर्ताओं का मनोबल ऊंचा रहे । उन्होंने कहा कि आजमगढ़ सदर लोकसभा से मुलायम सिंह यादव चुनाव जीते, इसके बाद अखिलेश यादव चुनाव जीते, लेकिन कभी भी आजमगढ़ की जनता का सुधी चुनाव जीतने के बाद नहीं लिया, केवल जब चुनाव आ जाता है तब यह लोग आकर के वोट मांगते हैं, अब तो हद हो गई है, आजमगढ़ से अखिलेश यादव ने अपने धर्मेंद्र यादव को लोकसभा का टिकट दे दिया है, और कार्यकर्ता धर्मेंद्र यादव के लिए वोट मांग रहा है, वही हाल भारतीय जनता पार्टी का है, भाजपा को भी कोई ऐसा कार्यकर्ता नहीं मिल रहा है, जिसको भाजपा लोकसभा का टिकट दे सके । ऐसे हाल में भाजपा ने भी बाहरी प्रत्याशी लाकरके अपने कार्यकर्ताओं का मोरल डाउन किया है, उन्होंने कहा कि मैं जहां जहां भी चुनाव प्रचार में जा रहा हूं, और लोगों से वोट मांग रहा हूं, तो लोग सपा-भाजपा दोनों प्रत्याशियों के ऊपर बाहरी होने का प्रश्न चिन्ह लगा रहे हैं, ऐसे में मैं एक बार फिर दोनों पार्टियों से कह रहा हूं कि स्थानिक कार्यकर्ता को टिकट दे, ताकि कोई भी लड़े तो वह आजमगढ़ का स्थानीय निवासी रहे, और आजमगढ़ की जनता का चुनाव जीतकर सेवा कर सके । बता दें कि श्री श्री 108 उमाशंकर महाराज जी सिद्ध पीठ श्री दुर्गा जी मंदिर (दुर्गा जी ट्रस्ट) के महंत हैं । और यह सिद्ध पीठ तरवां थाना क्षेत्र के बेदिया गांव में स्थित है । श्री श्री 108 उमाशंकर महाराज जी 6, 4, 2016 से अन्न को त्याग दिए हैं । और 24 घंटे के अंदर 200 ग्राम से ज्यादा पानी भी नहीं पीते है ।