जनपद संवाददाता प्रदीप कुमार पाण्डेय।

गाजीपुर। माया की माया से कोई वंचित नहीं रहता ।किंतु यही माया जब मनुष्य को बुरी तरह घेर लेती है तो वह भ्रष्टाचार पर उतारू हो जाता है। इसी क्रम में एंटी करप्शन टीम ने थाना सादात के एक निरीक्षक आफताब अहमद को₹25000 घूस लेते रंगो हाथों पकड़ लिया। इसके अंतर्गत करप्शन विभाग की ओर से सादात थाना प्रभारी आलोक त्रिपाठी के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज कराया गया है ।इस मुकदमे की कार्रवाई बहरियाबाद थाने में हुई। इस कार्रवाई से पूरे पुलिस महकमे में अफरा तफरी मच गई। शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसकी मारुति स्विफ्ट कार 23 फरवरी को पुलिस ने पकड़ी थी ।उसे कार को रिलीज करने के लिए एसडीएम के यहां रिपोर्ट भेजी जानी थी ।जिसके लिए दरोगा द्वारा ₹25000 की मांग की गई थी। शिकायतकर्ता ने परेशान होकर एंटी करप्शन वाराणसी टीम को सूचना दी। शिकायतकर्ता के इस सूचना पर एंटी करप्शन टीम ने दरोगा को रंगे हाथों घूस लेते हुए सादात थाना परिसर में ही दबोच लिया। पकड़ने वाली टीम में एस ओ अजीत सिंह ,नीरज सिंह, योगेंद्र कुमार, मैनेजर सिंह, प्रमोद कुमार ,हेड कांस्टेबल शैलेंद्र कुमार राय, विशाल उपाध्याय, सुमित कुमार भारती ,विनोद कुमार, कांस्टेबल आशीष शुक्ला, अजय कुमार यादव ,सहित अन्य पुलिसकर्मी शामिल रहे।